ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR नई दिल्लीनिजीकरण से रोजगार में आरक्षण खत्म हो रहा : एसकेएम

निजीकरण से रोजगार में आरक्षण खत्म हो रहा : एसकेएम

- कहा, केंद्र ने निजी क्षेत्र में आरक्षण के लिए कोई कानून नहीं बनाया

निजीकरण से रोजगार में आरक्षण खत्म हो रहा : एसकेएम
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 11 May 2024 09:45 PM
ऐप पर पढ़ें

नई दिल्ली, एजेंसी।
संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने शनिवार को नौकरियों में आरक्षण के मुद्दे को लेकर भाजपा पर ‘दोहरेपन का आरोप लगाया। एसकेएम ने कहा कि भर्तियां नहीं होने, सार्वजनिक क्षेत्र के निजीकरण और नियमित रोजगार में अनुबंध के कारण नौकरियों में आरक्षण खत्म हो गया है।

एसकेएम का यह बयान तब आया है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल में महाराष्ट्र के नंदूरबार में चुनावी रैली के दौरान कहा था कि वह हाशिए पर रहने वाले समुदायों के अधिकारों के लिए चौकीदार की भूमिका निभाएंगे। एसकेएम ने आरोप लगाया कि भाजपा के 10 साल के राज ने अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए नौकरियों में आरक्षण खत्म कर दिया है। भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने निजी क्षेत्र में आरक्षण के लिए कोई कानून नहीं बनाया। बयान में कहा गया है, एसकेएम ने कॉर्पोरेट समर्थक नीतियों को लागू करके दलित, आदिवासी और अन्य पिछड़े समुदायों के लोगों के लिए रोजगार में आरक्षण को खत्म करने में भाजपा के दोहरेपन की कड़ी निंदा की है, जो आबादी का एक बड़ा हिस्सा हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।