class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुनिया में आकर्षक निवेश स्थल बना भारत : कोविद

अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में देश विदेश की कंपनियों का आना यह दर्शाता है कि भारत का वैश्विक अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण स्थान है। देश में सुधर रहे कारोबार के माहौल से व्यापार करना आसान हुआ है। गुड्स एंड सर्विस टैक्स लागू होना आर्थिक सुधारों की दिशा में एक बहुत बड़ा कदम है।

ये बातें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रगति मैदान में आयोजित 37वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले (आईआईटीएफ) का उद्घाटन करते हुये कहीं। इस मौके पर उन्होंने कहा कि इस मेले से देश—विदेश के स्तर पर व्यापारिक गतिविधयों को बढ़ावा मिलता है। इस मेले में देश की विविध संस्कति और व्यापारिक गतिविधियों की झलक मिलती है। उन्होंने कहा कि आज दुनिया में भारत की पहचान एक आकर्षक निवेश स्थल के रूप में बनी है और भारत में व्यावसायिक परिवेश में हुये सुधार को दुनिया ने मान्यता दी है। उन्होंने कहा कि देश में शुरू किये गये सुधारों और कारोबार सुगमता से प्रत्यक्ष विदेशी निवेश का आंकड़ा जो कि 2013—14 में 36 अरब डालर रहा था वर्ष 2016—17 में बढ़कर 60 अरब डालर पर पहुंच गया। सरकार की विभिन्न पहलों, मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया, स्टार्ट अप इंडिया, स्किल इंडिया और स्मार्ट सिटीज का जिक्र करते हुये कहा कि इन कदमों का मकसद आर्थिक सुधारों को आम आदमी के लिये अधिक सार्थक बनाना है। इस मौके पर राष्ट्रपित कोविंद की पत्नी सविता कोविंद, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु, वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सी आर चौधरी, झारखंड के शहरी विकास एवं अवास मंत्री सी पी सिंह तथा भारत में वियतनाम और किरगिस्तान के राजदूत भी समरोह में उपस्थित थे।

दो वर्षों में बदल जाऐगी प्रगति मैदान की सूरत : सुरेश प्रभु

पिछले कई सालों से देश में बड़े प्रदर्शनी स्थल के रूप में विख्यात हो चुके प्रगति मैदान को नये सिरे से विकसित किया जा रहा है। दो साल में यह नये रूप में बनकर तैयार हो जायेगा। इसे अंतरराष्ट्रीय स्तर के प्रदर्शनी स्थल के तौर पर विकसित किया जा रहा है। यहां विश्वस्तरीय प्रदर्शनी हॉल और सम्मेलन कक्ष बनाये जायेंगे।

ये बातें केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले के उद्घाटन के मौके पर कहीं। व्यापार मेले में स्टार्ट—अप इंडिया, स्टैण्ड—अप इंडिया मंडप का उद्घाटन करते हुये प्रभु ने कहा कि स्टार्ट अप इंडिया आज वास्तविकता बन चुका है। इस समय देश में 20,000 से अधिक स्टार्ट अप काम कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि निर्यात में वृद्धि के लिए नियार्त में तेजी लाने के उद्देश्य से विदेश व्यापार नीति (एफटीपी) की मध्यकालिक समीक्षा जल्द जारी की जायेगी। उन्होंने कहा कि वाणिज्य मंत्रालय नियार्त के मामले में अलग अलग देश के हिसाब से रणनीति तैयार करने पर काम कर रहा है। वे मेले में उद्यमियों और देश—विदेश से पहुंचे प्रतिनिधियों को संबोधित कर रहे थे। वाणिज्य मंत्री ने कहा कि उन्होंने सिडबी के अधिकारियों से कहा है कि वह युवा उद्यमियों के वित्त संबंधी मामलों का समाधान करने में मदद करें। उन्होंने कहा कि मंत्रालय अंतरराष्ट्रीय वित्त निगम की मदद से जल्द ही स्टार्ट अप के लिये एक बैठक का आयोजन करेगा। झारखंड के शहरी विकास मंत्री सी़पी़ सिंह भी मेले के उद्घाटन के मौके पर समारोह में उपस्थित रहे। उन्होंने उद्यमियों को झारखंड में निवेश के लिये आमंत्रित करते हुये कहा कि राज्य निवेशकों के लिये कारोबार सुगमता के क्षेत्र में कई कदम उठा रहा है।

देश के 30 लाख दस्तकारों—शिल्पकारों को बाजार मुहैया कराने का लक्ष्य : नकवी

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने देश के विभिन स्थानों पर आयोजित हुए हुनर हाट को काफी सफल बताते हुए आज कहा कि उनका मंत्रालय देश के 25 से 30 लाख दस्तकारों, शिल्पकारों और कारीगरों को इस कार्यक्रम से जोड़कर मार्केट और मौका उपलब्ध कराना चाहता है। प्रगति मैदान में अंतरराष्ट्रीय मेले में हुनर हाट के आयोजन के मौके पर उन्होंने कहा की हम 25 से 30 लाख दस्तकारों, शिल्पकारों, कारीगरों और बावर्चियों को इस कार्यक्रम से जोड़ना चाहते हैं ताकि उनको मार्केट और मौका मिल सके। प्रगति मैदान में आयोजित होने वाले इस हुनर हाट में देश के विभिन्न राज्यों और केन्द्र शासित क्षेत्रों से अल्पसंख्यक समुदाय के 130 से अधिक कारीगर, दस्तकार, शिल्पकार भाग ले रहे हैं। इनमें लगभग 30 महिला दस्तकार भी शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:president
गोकुलपुरी में नाले में गिरकर से डेढ़ साल की बच्ची की मौततुर्की के झूमर और अफगान के मेवे का क्रेज