Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCR नई दिल्लीपीडी:::सामूहिक हत्याकांड में पुलिस ने बदली थ्योरी, दो नए युवक हिरासत में

पीडी:::सामूहिक हत्याकांड में पुलिस ने बदली थ्योरी, दो नए युवक हिरासत में

हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीNewswrap
Thu, 02 Dec 2021 11:40 PM
पीडी:::सामूहिक हत्याकांड में पुलिस ने बदली थ्योरी, दो नए युवक हिरासत में

कुनबे का कत्ल

- दो युवक हिरासत में, योजना बनाकर हत्या की गई

- शादी का दबाव बनाने पर लड़की को मारने पहुंचे थे

प्रयागराज। वरिष्ठ संवाददाता

फाफामऊ के गोहरी गांव में दलित दंपती और उनके बेटे-बेटी की हत्या के मामले में पुलिस अब नई कहानी सामने लाई है। हत्याकांड में पुलिस की इस नई थ्योरी ने उसके अपने ही पहले के खुलासे को झूठा साबित कर दिया। पुलिस अफसरों का दावा है कि अब असली कातिल शिकंजे में आए हैं। पुलिस का अब दावा है कि हत्याकांड की कड़ी एक कोचिंग में मुलाकात से जुड़ रही है। पुलिस ने अब दो नए लोगों को मामले में उठा लिया है। पूरा दिन पुलिस उन्हें लेकर सबूत जुटाने में जुटी रही। नए तथ्यों में रिश्तों की कड़वाहट सामने आ रही है।

पुलिस सूत्रों का कहना है कि शशि पटेल नाम के युवक और युवती में बातचीत होती थी। युवती अब युवक पर शादी का दबाव बना रही थी। वह युवक के घर तक पहुंच गई थी। कहा था कि शादी न करने पर घरवालों को बता देगी। पुलिस के पास जाएगी। इससे डरे युवक ने अपने मौसेरे भाई के साथ मिलकर हत्या की सनसनीखेज घटना अंजाम दी। पहले के खुलासे में किरकिरी झेल चुकी पुलिस अब नई थ्योरी में पुख्ता सबूत के साथ सामने आना चाहती है। हालांकि अभी यह देखने वाली बात होगी कि साक्ष्य कितने दमदार हैं। फिलहाल शशि पटेल और उसका मौसेरा भाई पुलिस के शिकंजे में आ चुके हैं। अफसर उनसे पूछताछ कर रहे हैं।

पुलिस की अब तक की जांच और पूछताछ में सामने आया है कि भोगी सरांय, शिवगुढ़ का शशि पटेल एक कोचिंग जाने के दौरान दलित दंपती की बेटी से मिला। दोनों के बीच मोबाइल पर लंबे समय तक बातचीत चलती रही। फिर शशि नौकरी करने दिल्ली चला गया। इसी बीच युवती और शशि के बीच कहासुनी हो गई। युवती शशि पर शादी का दबाव बनाने लगी। दोनों की बिरादरी अलग है, ऐसे में युवक उससे पीछा छुड़ाने की योजना बनाने लगा। उसने लड़की को रास्ते से हटाने की साजिश रची। मौसेरे भाई रजनीश पटेल को पूरा मामला बताया। रजनीश गोहरी के बगल लेहरा का है। शशि दिल्ली से आया लेकिन अपने घर नहीं गया। 21 नवंबर की देररात दोनों पीछे के रास्ते से घर में घुसे। आहट होने से मां जाग गई तो उसे मार दिया। अफरातफरी में सोते हुए पिता के सिर पर वार किया। इस दौरान युवती को पकड़कर भाई पर हमला कर उसे मार डाला। अंत में युवती की हत्या की गई। रेप एक ही युवक ने किया। शशि और रजनीश दोनों ही पुलिस की हिरासत में हैं। पुलिस ने उनकी निशानदेही पर राड बरामद किया है। हत्या के इरादे से गए दोनों युवक राड लेकर आए थे। हालांकि इस मामले में एक तीसरे युवक के शामिल होने की बात भी आ रही है। उसकी भूमिका की पुलिस जांच कर रही है।

हिन्दुस्तान ने उठाए थे सवाल

दलित परिवार के चार लोगों की नृशंस हत्या के मामले में पुलिस ने पवन की गिरफ्तारी दिखाकर खुलासा कर दिया था। आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान ने पुलिस के खुलासे को सच से दूर बताते हुए कई सवाल उठाए थे। हिन्दुस्तान के सवालों के बाद पुलिस की काफी किरकिरी हुई थी। आम लोगों को भी पुलिस की कहानी पर यकीन नहीं हुआ था।

epaper

संबंधित खबरें