ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR नई दिल्लीएनसीईआरटी :::: किताबों में बदलाव ऐतिहासिक तथ्य मिटाने के प्रयास : केरल सरकार

एनसीईआरटी :::: किताबों में बदलाव ऐतिहासिक तथ्य मिटाने के प्रयास : केरल सरकार

तिरुवनंतपुरम, एजेंसी। केरल सरकार ने शनिवार को कहा कि राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और...

एनसीईआरटी :::: किताबों में बदलाव ऐतिहासिक तथ्य मिटाने के प्रयास : केरल सरकार
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 06 Apr 2024 07:30 PM
ऐप पर पढ़ें

तिरुवनंतपुरम, एजेंसी।
केरल सरकार ने शनिवार को कहा कि राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) की किताबों में बदलाव कर ऐतिहासिक तथ्यों को मिटाने के प्रयास किए जा रहे हैं। बाबरी मस्जिद और गुजरात दंगों को लेकर कक्षा 11वीं और 12वीं की राजनीति विज्ञान की पुस्तकों में हुए संशोधन पर केरल सरकार ने यह बयान जारी किया।

राज्य के शिक्षा मंत्री वी शिवनकुट्टी ने कहा, जहां तक ​​इन मुद्दे का सवाल है, केरल अपनी स्थिति पर कायम है। केरल सरकार ने इस संबंध में एनसीईआरटी के पहले के फैसले का भी कड़ा विरोध किया था। हमने कहा था कि यह भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार द्वारा ‘भगवाकरण की कोशिश का हिस्सा है। शिवनकुट्टी ने कहा, एनसीईआरटी ने पहले भी इसी तरह के प्रयास किए थे और अपने इतिहास, सामाजिक विज्ञान व राजनीति की पाठ्यपुस्तकों से कुछ हिस्से हटा दिए थे। केरल सरकार ने इसके खिलाफ प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए हटाए गए हिस्सों वाली अतिरिक्त पाठ्यपुस्तकें प्रकाशित की थीं।

उन्होंने कहा, बच्चों को पढ़ाई के माध्यम से वास्तविकता समझनी चाहिए और यही केरल का रुख है। उन्होंने कहा कि राज्य ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि वह पाठ्यपुस्तकों में विकृत इतिहास या वैज्ञानिक अंशों को स्वीकार नहीं करेगा। मंत्री ने एनसीईआरटी पर पाठ्यपुस्तकों से ऐतिहासिक तथ्यों को मिटाने का आरोप लगाया और कहा कि राज्य इस मामले में अपना पहले का रुख जारी रखेगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।