class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लखनऊ हाइवे का इस्तेमाल कर फरार कर्मचारी तक पहुंची पुलिस

नई दिल्ली। प्रमुख संवाददाता

नेहरू प्लेस स्थित एक रेस्तरां से आठ लाख रुपये लेकर फरार हुए कर्मचारी को पुलिस ने नेपाल बॉर्डर से पकड़ लिया। वह नेपाल भागने की फिराक में था। पुलिस ने आरोपी जीवन थापा से आठ लाख रुपये बरामद कर लिए हैं।

पुलिस उपायुक्त पंकज सिंह के अनुसार, मालवीय नगर निवासी विकास कुमार नेहरू प्लेस स्थित एक रेस्तरां में मैनेजर हैं। उन्होंने 4 दिसंबर को कर्मचारी दीपक थापा को आठ लाख रुपये बैंक में जमा कराने के लिए दिए थे। मगर वह रुपये लेकर फरार हो गया। विकास की शिकायत पर मेट्रो पुलिस ने अमानत में ख्यानत का मामला दर्ज कर लिया।

प्राथमिक जांच में पता चला कि वह नेपाल का रहने वाला है। पुलिस को लगा कि वह रकमलेकर अपने घर भाग सकता है, इसलिए स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर राजीव कुमार की देखरेख में एएसआई रघुबीर सिंह और सिपाही सुरेन्द्र को मंगलवार सुबह बहराइच स्थित रूपईडीहा नेपाल बॉर्डर के लिए रवाना किया गया। यह टीम कुछ ही घंटों में बॉर्डर पर पहुंचकर आरोपी का इंतजार करने लगी।

उधर, जीवन बस में सवार होकर लगभग 20 घंटे में वहां पहुंचा। नानपुरा पुलिस की मदद से दिल्ली पुलिस की टीम ने आरोपी को पकड़ लिया। तलाशी में उसके पास से रुपयों का बैग भी मिल गया। वहां की अदालत में पेश कर उसे ट्रांजिट रिमांड पर दिल्ली लाया गया। पुलिस ने उसे अदालत के समक्ष पेश कर गुरुवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

आरोपी 13 साल पहले नेपाल से दिल्ली आया था। वह दिल्ली में किराए के मकान में रहता था। पिछले काफी समय से रोजाना लाखों रुपये जमा कराने जाता था। उस दिन मोटी रकम होने के कारण उसे लालच आ गया और वह इस रकम को लेकर फरार हो गया। इस रकम से वह अपना कारोबार करना चाहता था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:metro police arrested accused of theft with the help of lucknow highway
मेट्रो स्टेशन रेलवे ट्रेक पर गिरकर महिला की संदिग्ध हालत में मौतमैच से पहले प्रदूषण का स्तर भी जाना जाए