अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्वी निगम में महापौर पद के लिये नामांकन की तारीख बढ़ी

नई दिल्ली। प्रमुख संवाददाता

पूर्वी दिल्ली नगर निगम में महापौर पद के लिए सोमवार को नामांकन भरने की अंतिम तारीख को फिर से बढ़ा दिया गया है। अब नामांकन की अंतिम तारीख 18 अप्रैल है। महापौर का चुनाव 27 अप्रैल को होना है। इससे पहले भी नामांकन की तारीख को बढ़ाया गया था।

पटपड़गंज स्थित निगम मुख्यालय में सुबह से ही गहमागहमी रही। 11 बजे से पार्षदों के आने का सिलसिला शुरू हो गया था। महापौर नीमा भगत, नेता सदन संतोष पाल के कार्यालय में महापौर पद की दौड़ में जुटे पार्षदों की भीड़ जुटी थी। महापौर की दौड़ में जिन पार्षदों की चर्चा चल रही थी उनमें उप महापौर बिपिन जैन, निर्मल जैन, राजकुमार बल्लन, कंचन महेश्वरी, गोविंद अग्रवाल सहित अन्य पार्षद शामिल हैं। पार्षदों में एक दूसरे के नाम को लेकर कानाफूसी चल रही थी। इंतजार किया जा रहा था कि कब पार्टी की तरफ से आदेश मिले और महापौर पद के लिए नामांकन किया जाए। करीब सवा तीन बजे आदेश आया कि महापौर के नामांकन भरने की अंतिम तारीख सोमवार को स्थगित कर दिया है अब नामांकन 18 अप्रैल को किया जाएगा। यह जानकारी जब पार्षदों को मिली तो कुछ के चेहरे मुरझा गए तो कुछ के चेहरों पर मुस्कान उभर आई।

महापौर का नाम तय होने में हो रही देरी पर महापौर नीमा भगत ने सफाई देते हुए कहा कि उत्तरी तथा दक्षिण नगर निगम में भी महापौर के नामांकन करने की तारीख 18 अप्रैल रखी गई है इस कारण पूर्वी निगम में भी नामांकन के लिए यही तारीख तय की गई है।

विपक्ष ने निशाना साधा

महापौर के नामांकन की तारीख बढ़ाए जाने पर विपक्ष के नेता अब्दुल रहमान का कहना है कि भाजपा पार्षदों में अब तक नाम तय नहीं हो पा रहा है कि किसे महापौर बनाया जाए। हकीकत यह है कि महापौर को लेकर सात-आठ नाम उनके पास तक पहुंच चुके हैं। महापौर किसे बनाया जाए इसे लेकर भाजपा पार्षद एकमत नहीं हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:mayor nomination date postpone