DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिला के कब्जे से बड़ी मात्रा में दर्द निवारक दवा मिली

नई दिल्ली। कार्यालय संवाददाता कश्मीरी गेट पुलिस ने नशे के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के दौरान 8 जून को एक महिला को बड़ी मात्रा में दर्द निवारक दवाओं के साथ पकड़ लिया। महिला नशेड़ियों को ये दवाएं बेचती थी। हालांकि, पुलिसकर्मियों को चकमा देकर महिला फरार हो गई। एएसआई रविंद्र पाल 8 जून को सहकर्मियों के साथ इलाके में गश्त कर रहे थे। इस दौरान उन्हें यमुना बाजार में एक महिला दिखाई दी, जिसके चारों तरफ लोगों की भीड़ लगी हुई थी। पुलिस को देखकर महिला भागने लगी। पुलिसकर्मियों ने पीछा कर महिला मीना का पकड़ लिया। तलाशी में महिला के थैले से 200 से ज्यादा इंजेक्शन तथा सीरिंज और 108 इंजेक्शन ‘बुप्रेनोरफिन नामक दवा मिले। हालांकि, महिला डॉक्टर का पर्चा लाने के बहाने फरार हो गई। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। पुलिस के अनुसार, ये दवा डॉक्टर के पर्चे के बिना नहीं मिलती हैं। इसके लिए एसीपी की ओर से ऑर्डर भी जारी हैं। महिला के खिलाफ कश्मीरी गेट थाने में आईपीसी की धारा 188 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं, मंकी ब्रिज के पास शुक्रवार को पुलिसकर्मियों ने सिराज नामक एक व्यक्ति को पकड़ा। वह नशे के लिए भिखारियों को दर्दनाक दवाइयां बेच रहा था। तलाशी में उसके पास से दस शीशी एम्विल और सीरिंज बरामद हुईं। पूछताछ में उसने बताया कि वह एक महीने से इन दवाओं को नशा करने वालों को बेच रहा था। ये दवाएं गीता कॉलोनी स्थित एक मेडिकल स्टोर से लाई जाती हैं। पुलिस जांच कर रही है। दर्द निवारक है बुप्रेनोरफिन ईएसआईसी में कार्यरत डॉक्टर सोकरन वर्मा के अनुसार, 'बुप्रेनोरफिन' के इंजेक्शन दर्द निवारक के तौर पर लिए जाते हैं। मगर बार-बार प्रयोग करने से इनकी लत पड़ने का खतरा रहता है। जिसे लत पड़ जाए, वह इस इंजेक्शन के बिना नहीं रह सकता है। उसका मुंह सूखने लगता है और हाथ-पांव दर्द के मारे कांपने लगते हैं। इंजेक्शन लगाने के बाद वह सुधबुध खो देता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lady