DA Image
25 जनवरी, 2021|9:23|IST

अगली स्टोरी

केरल : दंपति के आत्मदाह मामले की जांच अपराध शाखा को सौंपी

default image

- विपक्षी पार्टियों ने पुलिस को इस घटना के लिए जिम्मेदार ठहराया था

- राज्य सरकार ने बेटों को मकान, जमीन और पांच-पांच लाख रुपये देने का फैसला किया

तिरुवनंतपुरम। एजेंसी

केरल सरकार ने विवादित स्थल से बेदखल करने की वजह से कथित तौर पर दंपति द्वारा आत्मदाह करने के मामले की जांच शुक्रवार को अपराधा शाखा के सुपर्द कर दी। बता दें कि इस घटना के बाद स्थानीय पुलिस की बड़े पैमाने पर आलोचना हो रही है। आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि राज्य के पुलिस महानिदेशक लोकनाथ बेहरा ने इस संबंध में जरूरी निर्देश अपराध शाखा को दे दिए हैं।

बता दें कि दंपति राजन (47) और उनकी पत्नी अम्बिली (40) मूल रूप से नेय्यात्तिनकारा के नजदीक नेल्लीमूडू के रहने वाले थे और उनकी कई अंगों के काम नहीं करने से यहां के राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल में मौत हो गई थी, उन्हें जली हुई अवस्था में भर्ती कराया गया था।

राज्य सरकार ने गुरुवार को मृतक दंपति के दो किशोर बेटों राहुल और रंजीत को मकान, जमीन और वित्तीय मदद के तौर पर पांच-पांच लाख रुपये देने का फैसला किया था। दंपति की 22 दिसंबर को हुई मौत के बाद राज्य में नाराजगी फैल गई थी और विपक्षी पार्टियों ने राज्य पुलिस को इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना के लिए जिम्मेदार ठहराया था जिसके बाद पुलिस ने परिवार की मदद की घोषणा की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kerala Investigation of couple 39 s self-immolation case handed over to Crime Branch