ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR नई दिल्लीकेरल हाईकोर्ट ने दोहरे हत्याकांड में मृत्युदंड को 25 साल कैद में बदला

केरल हाईकोर्ट ने दोहरे हत्याकांड में मृत्युदंड को 25 साल कैद में बदला

कोच्चि, एजेंसियां। केरल उच्च न्यायालय ने 2014 के एक दोहरे हत्याकांड में एक...

केरल हाईकोर्ट ने दोहरे हत्याकांड में मृत्युदंड को 25 साल कैद में बदला
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 25 May 2024 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

कोच्चि, एजेंसियां। केरल उच्च न्यायालय ने 2014 के एक दोहरे हत्याकांड में एक आईटी पेशेवर और उसकी महिला सहकर्मी-सह-प्रेमिका की दोषसिद्धि शुक्रवार को बरकरार रखी, लेकिन मुख्य अभियुक्त (प्रेमी) के मृत्युदंड को बदलकर 25 वर्ष के आजीवन कारावास में तब्दील कर दिया।
यह मामला महिला की तीन साल की लड़की और उसकी सास की हत्या मिलकर करने और महिला के पति की हत्या के प्रयास से जुड़ा है। उच्च न्यायालय ने महिला को अधीनस्थ अदालत द्वारा 2016 में सुनाई गई उम्रकैद की सजा भी कायम रखी। न्यायमूर्ति पी. बी. सुरेश कुमार और न्यायमूर्ति जॉनसन जॉन ने अलग-अलग लेकिन सहमति वाला फैसला सुनाते हुए नीनो मैथ्यू एवं अनु शांति को 2016 में अधीनस्थ अदालत द्वारा दोषी करार देने के आदेश पर मुहर लगाई।

हालांकि, पीठ का मत था कि मैथ्यू को मृत्युदंड के स्थान पर उम्रकैद की सजा देने का यह उपयुक्त मामला है, लेकिन उसका उम्रकैद (सामान्य अवधि) 14 साल से अधिक होगा एवं उसे कैद की वास्तविक अवधि (25 साल की अवधि) के पूरा होने से पहले जेल से रिहा नहीं किया जाएगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।