DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फार्मा कंपनी की महिला अधिकारी से एक करोड़ ठगे

मेट्रीमोनियल साइट्स के जरिए कई युवतियों को फंसाकर ठगी करने के आरोप में स्पेशल सेल की साइबर सेल यूनिट के हत्थे चढ़े 41 वर्षीय शातिर अनुराग मेंहदीरत्ता ने फार्मा कंपनी की वरिष्ठ अधिकारी से भी शादी का झांसा देकर एक करोड़ रुपये ठगे थे।

आरोपी की ठगी की खबर अखबारों में छपने के बाद अधिकारी को उसकी सच्चाई पता चली और उन्होंने स्पेशल सेल से संपर्क किया। आरोपी ने महिला अधिकारी को भी मेट्रीमोनियल साइट पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर अपने जाल में फंसाया था। पुलिस आरोपी अनुराग मेंहदीरत्ता को तीन दिन पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

झूठी प्रोफाइल बनाकर फंसाया

महिला अधिकारी ने पुलिस को बताया कि आरोपी ने वर्ष 2015 में सिद्धार्थ वालिया नाम से एक मेट्रीमोनियल साइट पर प्रोफाइल बनाकर उनसे संपर्क किया। आरोपी ने खुद को एक नामी इंटरनेशनल मीडिया कंपनी का वाइस प्रेसीडेंट बताया और शादी की इच्छा जताई थी। आरोपी ने नजदीकी बढ़ने पर महिला से शारीरिक संबंध भी बनाए। इस बीच उसने कभी पिता की बीमारी तो कभी खुद का कारोबार शुरू करने के नाम पर महिला से एक करोड़ रुपये ठग लिए। महिला ने आरोपी को लग्जरी कार भी गिफ्ट की थी।

वीपीएन नेटवर्क पर बात की

शातिर ने जब पिता की बीमारी का इलाज कराने के नाम पर ठगी की तो उस वक्त उसने झांसे में लेने के लिए महिला से वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (वीपीएन) के जरिए बात की, जिसमें उसने आईएसडी कोड यूके का रखा था। ताकि महिला को लगे कि वह यूके में ही है।

तीन बड़े बैंकों में काम कर चुका है

आरोपी अनुराग बीबीए ग्रेजुएट है और उसने दिल्ली के तीन बड़े बैंकों में बतौर सेल्स हेड काम भी किया है। साइबर सेल के पुलिस उपायुक्त अनीश रॉय ने बताया कि पिछले दिनों साइबर सेल में एक महिला ने छह लाख रुपये की ठगी की शिकायत दी थी। पीड़िता ने बताया कि वह हेल्थ सेक्टर में अच्छे पद पर काम करती है। पिछले दिनों मेट्रीमोनियल साइट पर उसका प्रोफाइल देखकर सिद्धार्थ वालिया नामक शख्स ने उससे बातचीत शुरू की। इस मामले में पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था। पूछताछ में आरोपी ने इससे पहले भी दो युवतियों के साथ ठगी करने की बात कबूल की है। उसने इनमें से एक का शारीरिक शोषण भी किया था। आरोपी के खिलाफ साइबर सेल के अलावा सीआर पार्क थाने में भी एक युवती की तरफ से शिकायत दर्ज कराई गई है। आरोपी ने इस युवती से सिद्धार्थ बनकर बातचीत की थी। बाद में अपने चचेरे भाई को भेजने की बात कह कर खुद ही युवती से मुलाकात भी की थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:fraud