DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वाहन चार्ज करने के लिए देना होगा 5.5 रुपए प्रति यूनिट

नई दिल्ली। कार्यालय संवाददाता

दिल्ली विद्युत नियामक आयोग (डीईआरसी) ने बिजली से चलने वाले वाहनों के लिए चार्जिंग शुल्क तय कर दिया है। इन वाहनों को चार्ज करने के लिए 5.50 रुपये प्रति यूनिट शुल्क देना होगा। वाहन बढ़ने पर चार्जिंग स्टेशन भी बनाए जाएंगे। दिल्ली सरकार की योजना इको-फ्रेंडली परिवहन को ज्यादा से ज्यादा प्रोत्साहित करने की है।

दिल्ली सरकार और टाटा पावर की संयुक्त उद्यम टाटा पावर डीडीएल के सीईओ और प्रबंध निदेशक प्रबीर सिन्हा ने बताया कि इलेक्ट्रिक वाहनों की चार्जिंग के लिए जरूरी ढांचागत सुविधा तैयार किया जा रहा है। डीईआरसी ने इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने के लिये 5.50 रुपये प्रति यूनिट शुल्क तय किया है। यह चालकों को बहुत महंगी भी नहीं पड़ेगी। एक गाड़ी को चार्ज करने में करीब सात से आठ यूनिट लगेंगी। यह पेट्रोल और डीजल वाहनों के मुकाबले बहुत सस्ता होगा। फास्ट चार्जिंग स्टेशन मात्र तीस मिनट में गाड़ी को चार्ज कर देंगे।

अभी पांच केंद्र बनाए गए हैं : प्रबीर सिन्हा के मुताबिक कि राजधानी में अभी तक रोहिणी, दिल्ली विश्वविद्यालय परिसर, पीतमपुरा, शालीमार बाग और मॉडल टाउन में चार्जिंग केंद्र बनाए गए हैं। अगले पांच वर्ष में 1000 चार्जिंग स्टेशन लगाने की योजना है। हम पार्किंग स्पेस, शापिंग मॉल, डीएमआरसी परिसरों में बैटरी चार्जिंग केंद्र लगाएंगे। इसके लिए बातचीत की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:electric vehicle The vehicle will be charged for charging Rs 5.5 per unit