DA Image
1 नवंबर, 2020|3:45|IST

अगली स्टोरी

संपादित::: छात्रों के पैसों से कर्मचारियों को वेतन देने के खिलाफ डूसू

default image

नई दिल्ली। प्रमुख संवाददाता

दिल्ली सरकार द्वारा छात्रों के लिए निर्धारित स्टूडेंट्स सोसायटी फंड को कर्मचारियों को वेतन देने के निर्णय के खिलाफ में रविवार को दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ तथा राज्य सरकार द्वारा वित्त पोषित डीयू से सम्बद्ध 12 कॉलेजों के छात्र संघ प्रतिनिधियों ने बैठक कर छात्रों के साथ इस तरह के रवैए पर कड़ी आपत्ति जताई है। डूसू राज्य सरकार द्वारा वित्त पोषित डीयू के कॉलेजों के छात्रों के फंडों के अवैध उपयोग और उन्हें कर्मचारियों के वेतन के भुगतान के लिए उपयोग करने संबंधी दिल्ली सरकार का विरोध कर रहा है।

डूसू अध्यक्ष अक्षित दहिया ने कहा कि डूसू दिल्ली सरकार की इस अदूरदर्शिता तथा छात्र विरोधी निर्णय का विरोध करता है। छात्र कल्याण के लिए निर्धारित फंड को यदि किसी दूसरे काम में लगा दिया जाएगा तो छात्रों के लिए विभिन्न गतिविधियों के लिए फंड कहां से आएगा? यह छात्रों की फीस के माध्यम से लिया गया फंड है न कि किसी की सरकार द्वारा दिया हुआ। कॉलेज स्तर पर अलग-अलग सोसाइटी के लिए पहले से ही फंड बहुत कम होता है और छात्र खुद संसाधन जुटाने पर मजबूर होते हैं।

ऐसे में इस तरह का निर्णय दिल्ली विश्वविद्यालय के सोसायटी कल्चर जोकि बहुत समृद्ध है तथा बहुत प्रतिभावान छात्र वहां से निकलते हैं के खिलाफ है। हम इस निर्णय के विरोध में बड़ा संघर्ष करेंगे। दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ ने इन कॉलेजों के प्राचार्यों को पत्र लिखकर इस संबंध में अपनी चिंता जाहिर की है तथा छात्र प्रतिनिधियों से भी संवाद के माध्यम से इस निष्कर्ष पर पंहुचा है कि इस निर्णय को तुरंत वापस लिया जाना चाहिए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Edited DUSU against giving salary to employees with students 39 money