अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीयू में कठुआ-उन्नाव की घटनाओं के खिलाफ विरोध मार्च

कठुआ और उन्नाव सहित देशभर में युवतियों और बच्चियों के साथ रेप की बढ़ती घटनाओं के विरोध में रविवार को दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्रों ने प्रदर्शन किया। विरोध मार्च में जेएनयू और जामिया के छात्रों ने भी हिस्सा लिया। छात्रों ने विश्वविद्यालय मेट्रो स्टेशन से लेकर विजय नगर तक विरोध मार्च निकाला। इस दौरान बड़ी संख्या में छात्राएं भी शामिल हुईं। प्रदर्शन में कुछ छात्राओं ने कैंडल जलाकर भी इस मार्च में हिस्सा लिया। शाम सात बजे शुरू हुए इस विरोध मार्च में दिल्ली विश्वविद्यालय के उत्तरी परिसर के कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं की संख्या अधिक रही। दिल्ली विश्वविद्यालय के मिरांडा हाउस कॉलेज में पढ़ने वाली छात्रा कनिष्का ने बताया कि पूरे देश में महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार और यौन शोषण की घटनाएं बढ़ रही हैं। कुछ मामलों में सत्ताधारी दल के नेता भी इन घटनाओं में आरोपी हैं। हम चाहते हैं कि पूरे देश में लड़कियों को सुरक्षित माहौल मिल सके। उन्होंने मांग की कि उन्नाव और कठुआ कांड के दोषियों को सख्त सजा दी जाए।

डीयू की शिक्षिकाएं भी प्रदर्शन में शामिल

रेप की बढ़ती घटनाओं के खिलाफ हुए इस प्रदर्शन में दिल्ली विश्वविद्यालय की शिक्षिकाएं भी शामिल हुईं। प्रदर्शन में शामिल इंद्रप्रस्थ कॉलेज की शिक्षिका उमा राग ने बताया कि कठुआ, उन्नाव के अलावा अब सूरत में एक लड़की का क्षत-विक्षत शव मिला है। देश में ऐसी घटनाएं बढ़ रही हैं। सत्ता में बैठे लोगों को इनका संरक्षण भी प्राप्त है। इस देश में सांप्रदायिक उन्माद फैलाने वाली ताकतें मजबूत हो रही हैं। ये ताकतें दोषियों को सजा दिलाने की मांग की बजाय उन्हें बचाने में लगी हैं। यह बेहद खतरनाक है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:du protest march against kathua unnao rape