DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   NCR  ›  नई दिल्ली  ›  डीएसजीएमसी कार्यकारिणी बोर्ड का कार्यकाल 29 अगस्त तक बढ़ा

नई दिल्लीडीएसजीएमसी कार्यकारिणी बोर्ड का कार्यकाल 29 अगस्त तक बढ़ा

हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 05:30 PM
डीएसजीएमसी कार्यकारिणी बोर्ड का कार्यकाल 29 अगस्त तक बढ़ा

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी (डीएसजीएमसी) की मौजूदा कार्यकारिणी बोर्ड को विस्तार मिल गया है। उपराज्यपाल की अनुमति के बाद दिल्ली सिख गुरुद्वारा चुनाव निदेशालय ने डीएसजीएमसी कार्यकारिणी बोर्ड का कार्यकाल 29 अगस्त या चुनाव होने तक (जो भी पहले हो) आगे बढ़ा दिया है। चुनाव निदेशालय ने यह आदेश तब जारी किया है, जब मौजूदा कार्यकारिणी का कार्यकाल 30 मई को समाप्त हो चुका है।

चुनाव स्थगित किए गए

कोरोना संक्रमण के चलते डीएसजीएमसी के प्रस्तावित चुनाव स्थगित कर दिए गए हैं। डीएसजीएमसी का कार्यकाल खत्म होने के बाद चुनाव निदेशालय ने अप्रैल में चुनावी प्रक्रिया शुरू की थी, जिसके तहत 25 अप्रैल को चुनाव प्रस्तावित थे, लेकिन कोरोना के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी के बाद चुनाव को स्थगित कर दिया गया।

कुलवंत सिंह बाठ ने उपाध्यक्ष पद संभाला

डीएसजीएमसी उपाध्यक्ष रहे कुलवंत सिंह बाठ ने मंगलवार को दोबारा उपाध्यक्ष पदभार संभाल लिया है। पूर्व में डीएसजीएमसी नेतृत्व पर नियमों के अनुसार काम न करने का आरोप लगाते हुए बाठ ने इस्तीफा दे दिया था, लेकिन बीते दिनों चुनाव निदेशालय की तरफ से जारी सूची में उनका नाम उपाध्यक्ष पद पर था। इसके बाद उन्होंने मंगलवार को दोबारा पद संभाल लिया है। पदभार संभालने के बाद बाठ ने कहा कि उन्हें कार्यालय नहीं दिया गया है, उन्होंने जीएम कार्यालय से काम करना शुरू कर दिया है। उनकी प्राथमिकता अब भी डीएसजीएमसी में पारदर्शिता लाना है। इस संबंध में 21 सदस्यों ने भी जनरल हाउस बुलाने की मांग की थी, जिस पर दो जून तक डीएसजीएमसी को जबाब देना है।

संबंधित खबरें