DA Image
17 जनवरी, 2021|2:10|IST

अगली स्टोरी

घर-घर सर्वे कर रहे 15 हजार लोगों की होगी कोरोना जांच

default image

नई दिल्ली। वरिष्ठ संवाददाता

संदिग्ध कोरोना मरीजों की पहचाने के लिए दिल्ली में चल रहे सर्वे में ड्यूटी कर रहे लोगों की भी कोरोना जांच होगी। दिल्ली में अभी सर्वे जारी है शिक्षक, एमसीडी कर्मी समेत मिलाकर करीब 15 हजार से अधिक लोग इस काम के लिए लगाएं गए हैं। उन सभी को संक्रमण से बचाने के लिए यह फैसला लिया गया है, जिससे समय रहते उनकी पहचान करके उन्हें आइसोलेट किया जा सके।

दरअसल बीते 20 से 25 नवंबर के बीच दिल्ली में चले सर्वे के दौरान उसमें ड्यूटी कर रहे एमसीडी के 17 शिक्षक को बाद में कोरोना हो गया था। इससे सबक लेते हुए अब सर्वे के दौरान ड्यूटी में लगे लोगों की जांच की जाएगी। इससे उन्हें संक्रमण से बचाने के साथ आगे उनसे संक्रमण फैलने से रोकने में मदद मिलेगी। इसमें शिक्षक, सफाईकर्मी, सिविल डिफेंसकर्मी समेत अन्य सभी लोग शामिल होंगे।

दिल्ली में अभी सर्वे जारी है जोकि अगले एक माह तक और चलेगा। इस बार सर्वे में दिल्ली के हाई रिस्क समूह वाले लोगों को चिन्हित करके आरटीपीसीआर जांच की जाएगी। जिससे कोरोना संक्रमण पाएं जाने पर उन्हें समय पर इलाज शुरू करके आइसोलेट किया जा सके।

दक्षिणी दिल्ली में संक्रमण से निगम शिक्षिका की मौत

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के आरके पुरम सेक्टर 8 में तैनात एक निगम शिक्षिका रिचा सूद की कोरोना से मौत हो गई। उन्हें बीते कुछ दिनों से सांस लेने में तकलीफ थी। रिचा सूद की उम्र 38 साल की थी। वह जिस स्कूल में पढ़ाती थीं, वहां के सभी शिक्षक, सफाई कर्मचारी भी सर्वे की ड्यूटी पर तैनात हैं। दक्षिणी निगम ने स्कूल परिसर को पूरी तरह से सैनिटाइज करने का आदेश दिया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Door to door survey of 15 thousand people will be done corona