अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब आचार्य भिक्षु अस्पताल में नई डॉक्टर की पिटाई

नई दिल्ली। वरिष्ठ संवाददाता

दिल्ली के सरकारी अस्पताल में डॉक्टर लगातार पिट रहे हैं। ऐसा ही एक मामला मंगलवार रात को आचार्य भिक्षु अस्पताल में सामने आया जहां एक महिला डॉक्टर की पिटाई कर दी गई। रोष में आकर डॉक्टरों ने बुधवार दोपहर इलाज ही नहीं किया। वहीं ओपीडी और इमरजेंसी में आने वाले मरीजों को लाइलाज होकर लौटना पड़ा। हड़ताल के साथ डॉक्टरों ने सरकार से सातवें वेतन आयोग की भी मांग की है। डॉक्टरों ने इसके साथ ही मांग की है कि उन्हें अस्पताल में सुरक्षा मिलनी चाहिए। हालांकि शाम में डॉक्टरों ने हड़ताल को समाप्त कर दिया। वहीं डॉक्टरों ने खुली चेतवानी दी है कि अगर गुरुवार को उन्हें वेतन नहीं मिला तो वह हड़ताल पर चले जाएंगे।

अस्पताल के रेजीडेंट डॉक्टर के अध्यक्ष डॉ. शिवम ने बताया कि हर तीसरे दिन ऐसा हो रहा है। पिछले 6 महीने के अंदर 4 डॉक्टर ऐसे पीटे गये हैं। इस बावत पुलिस को भी जानकारी दी गई है लेकिन अब यह अति हो गई है। मंगलवार रात को प्रसूति वार्ड में मारपीट हुई। उससे पहले ओपीडी में भी कुछ लोगों ने डॉक्टर को निशाना बनाया। प्रशासन कहता है कि जल्द सुरक्षा व्यवस्था ठीक कर दी जाएगी, लेकिन होता कुछ नहीं है। उन्होंने कहा कि यहां के गार्ड भी ऐसे हैं कि अगर डॉक्टरों के साथ कुछ अराजकता हो रही हो तो वह कुछ नहीं करते। दिल्ली सरकार के सभी अस्पतालों में वेतन महीने की 10 तारीख तक आ जाता है, लेकिन इस अस्पताल में कभी भी वेतन समय पर नहीं मिला। पिछले महीने 22 तारीख को बैंक खातों में वेतन पहुंचा था। ओपीडी में मरीज के तीमारदार कई बार डॉक्टर को पीट देते हैं। आये दिन तीमारदान डॉक्टरों से अभ्रदता करते हैं।

डॉक्टरों को नहीं मिल रहा वेतन

डॉ. शिवम ने बताया कि दिल्ली सरकार के अस्पताल में वेतन भी समय पर नहीं मिल रहा है, इस बावत पिछले महीने भी वेतन मिलने के लिए अस्पताल के प्रशासन को पत्र दिया था। पिछले महीने वेतन 22 तारीख को आया था। डॉक्टरों ने कहा कि अस्पताल प्रशासन ने लिखित आश्वासन दिया है कि गुरुवार दोपहर 3 बजे तक वेतन आ जाएगा। ऐसा नहीं हुआ तो वे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:doctor beaten in acharya bhikshu hospital