DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूल आने और जाने के लिए सरकार छात्रों को पैसे देगी।

नई दिल्ली। वरिष्ठ संवाददातादिल्ली सरकार नई दिल्ली नगर पालिका, दिल्ली केंटोमेंट से संबद्ध स्कूलों व सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में अध्ययनरत विशिष्ट आवश्यकता वाले बच्चों को आने-जाने के लिए पैसे देगी। इन बच्चों को यात्रा भत्ता देने संबंधी बजट को मंजूरी मिल गई है। हालांकि भत्ता नगद राशि के तौर पर नहीं दिया जाएगा। स्कूल विशिष्ट आवश्यकता की श्रेणी में सिर्फ ब्लाइंड, मल्टीपल डिसिबिलिटी, ऑर्थोपेडिक इंपेरिमेंट, सेरिब्रल पेल्सी से ग्रसित बच्चों को ही यात्रा भत्ता से लाभांवित करेगा। यात्रा भत्ता को लेकर शिक्षा विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शैक्षणिक सत्र 2017- 18 के लिए तकरीबन 65 लाख रुपए यात्रा भत्ते के लिए संबंधित विभाग ने मंजूर किए हैं। इसके बाद आठ जिलों के कुल 2635 बच्चों को प्रत्येक महीने 250 रुपए दस महीने तक यात्रा भत्ता मिलेगा। इसके तहत पहली से आठवीं कक्षा में अध्ययनरत विद्यार्थियों को स्कूल आने -जाने के लिए यात्रा भत्ता मिलेगा। इस संबंध में स्कूलों को भी स्पष्ट तौर पर दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। ऐसे बच्चों का निरीक्षण व सत्यापन करने की जिम्मेदारी स्कूल प्रमुख की होगी। वहीं स्कूल के प्रमुख को ही विशिष्ट आवश्यकता वाले बच्चों को घर से स्कूल में लाने व स्कूलों से घर छोडऩे के लिए वाहन की व्यवस्था आवश्यकता के अनुरूप सुनिश्चित करनी होगी। अधिकारी ने बताया कि पूर्व शैक्षणिक सत्र में अध्ययनरत बच्चों को यात्रा भत्ता देने में वरीयता दी जाएगी, इसके बाद बजट में शेष धनराशि बचने पर नए बच्चों को इसका लाभ दिया जाएगा। वहीं स्कूलों में विशिष्ट आवश्यकता वाले बच्चों की संख्या के आधार पर ही संबंधित स्कूलों के खाते में धनराशि निर्गत की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:delhi school