DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ब्लू लाइन पर मेट्रो ने दूसरे दिन भी रुलाया, यात्रियों का हुआ बुरा हाल

delhi metro

मेट्रो परिचालन के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब मेट्रो करीब 24 घंटे तक अटक-अटक कर चली। मंगलवार दोपहर 12 बजे से ब्लू लाइन (द्वारका से वैशाली/नोएडा) पर सिग्नल की जो समस्या शुरू हुई वह पूरी तरह से गुरुवार दोपहर करीब 12 बजे तक ठीक की जा सकी। 

मेट्रो प्रवक्ता अनुज दयाल के मुताबिक, गुरुवार सुबह पांच घंटे ब्रेक के बाद जब दोबारा मेट्रो का परिचालन शुरू हुआ तो सुबह 8 बजे के बाद एक बार फिर सिग्नल की समस्या (परिचालन नियंत्रण कक्ष से संपर्क का टूटना) आने लगी।
 
पीक ऑवर्स में अपने ऑफिस, कॉलेज व जरूरी कामकाज के लिए घर से निकले लोग फिर मेट्रो में फंस गए। मिनटों में पूरा होने वाला सफर उन्हें घंटों जाया करके पूरा करना पड़ा। इससे पहले सबसे ज्यादा देर तक मेट्रो 11-12 जनवरी 2017 में रही थी। उस समय मेट्रो परिचालन 11 घंटे तक प्रभावित रहा था।

दिल्ली मेट्रो: दूसरे दिन भी स्पीड पर लगा ब्रेक, देरी से चल रही मेट्रो

सिग्नल की समस्या से दिल्ली मेट्रो सेवा ठप, 2 घंटे तक परेशान रहे यात्री 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:delhi Metro continues suffers second day from signal problem in blue line from dwarka to vaishali or noida