ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCR नई दिल्ली'आधी अधूरी और गलत है चीफ सेक्रेटरी के खिलाफ दिल्ली सरकार की रिपोर्ट', उपराज्यपाल ने विचार करने से किया इनकार

'आधी अधूरी और गलत है चीफ सेक्रेटरी के खिलाफ दिल्ली सरकार की रिपोर्ट', उपराज्यपाल ने विचार करने से किया इनकार

उपराज्यपाल ने कहा, रिपोर्ट का विशेष भाग कथित तौर पर मीडिया में लीक हो गया है जिससे प्रथम दृष्टया ऐसा प्रतीत होता है कि इस जांच का कसद सच्चाई का पता लगाना नहीं था, बल्कि मीडिया ट्रायल शुरू करना था।

'आधी अधूरी और गलत  है चीफ सेक्रेटरी के खिलाफ दिल्ली सरकार की रिपोर्ट', उपराज्यपाल ने विचार करने से किया इनकार
Aditi Sharmaलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीMon, 20 Nov 2023 12:24 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में केजरीवाल सरकार और उपराज्यपाल के बीच नया विवाद शुरू होता नजर आ रहा है। इस बार मामला मुख्य सचिव नरेश कुमार के ऊपर लगे आरोपों से जुड़ा है जिसकी रिपोर्ट हाल ही में सीएम केजरीवाल ने उपराज्यपाल वीके सक्सेना को भेजी थी।

उपराज्यपाल ने उस रिपोर्ट पर विचार करने से इनकार कर दिया है जिसमें नरेश कुमार के खिलाफ बामनोली भूमि अध्रिग्रहण मामले में भ्रष्टाचार के आऱोप लगाए गए थे। उपराज्यपाल ने रिपोर्ट को आधी अधूरी और गलत बताते हुए इस पर विचार करने से इनकार कर दिया है। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक वीके सक्सेना का कहना है कि  रिपोर्ट चल रही जांच को सुविधाजनक बनाने के बजाय उसमें बाधा डाल सकती है।

'पहले से पब्लिक डोमेन में रिपोर्ट'

उपराज्यपाल ने कहा मुझे सतकर्ता मंत्री की 'शिकायतों' पर 'प्रारंभिक रिपोर्ट' मिली, जो मुख्यमंत्री (अरविंद केजरीवाल) द्वारा समर्थित है। ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि जो रिपोर्ट संवेदनशील के साथ और मेरे सचिवालय को गोपनीय कवर में मौजूद है वो पहले से ही पब्लिक डोमेन में है और इसकी डिजिटल और इलेक्ट्रॉनिक कॉपियां स्वतंत्र रूप से उपलब्ध हैं। इसका विवरण भी मीडिया में व्यापक रूप से रिपोर्ट किया गया है।

उपराज्यपाल ने कहा, रिपोर्ट का विशेष भाग कथित तौर पर मीडिया में लीक हो गया है जिससे प्रथम दृष्टया ऐसा प्रतीत होता है कि इस कथित जांच का पूरा मकसद सच्चाई का पता लगाना नहीं था, बल्कि मीडिया ट्रायल शुरू करना और इस पूरे मुद्दे का राजनीतिकरण करना था। उन्होंने ये भा कहा कि इस मामले की जांच पहले से सीबीआई कर रही है। 

उन्होंने कहा कि ये रिपोर्ट पूर्वाग्रह से ग्रसित मालूम पड़ती है इसलिए इस पर विचार नहीं किया जा सकता।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें