अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राशन की दुकानों से ई पोश मशीने हटाने को एलजी की मंजूरी

नई दिल्ली, प्रमुख संवाददाता

दिल्ली सरकार ने राशन फर्जीवाड़ा रोकने के लिए लगी ई पोश मशीनों को हटाने का प्रस्ताव किया है। इस प्रस्ताव पर उपराज्यपाल ने सहमति जताई है। हालांकि इस मशीनों पर उपराज्यपाल अनिल बैजल ने सरकार को राय दी है कि वह फर्जीवाड़ा रोकने की तकनीक को न छोड़े जो पहले ही स्तर पर लेन देन की धोखाधड़ी का पता लगा लेती हो। इस मामले में उपराज्यपाल ने जांच भ्रष्टाचार विरोधी शाखा को सौंपी है।

उन्होंने बताया कि जब इन सिस्टम की मदद से राशन दिया जाता है तो उपभोक्ता की बायोमैट्रिक जानकारियां जांची जाती हैं। इससे ऑन लाइन आधार पर सही उपभोक्ता का सत्यापन हो जाता है। इन मशीनों की मदद से 2 माह में ही 98.75 प्रतिशत राशन बांटा गया। इससे अयोग्य राशनकार्ड धारकों की पहचान की जा सकती है। उन्होंने कहा कि इससे उन लोगों तक राशन पहुंचाया जा सकेगा, जो अब तक राशन मिलने के लिए कतार में लगे हुए हैं।

बायोमैट्रिक के साथ लागू करें डोर स्टेप डिलीवरी : उपराज्यपाल ने कहा कि दिल्ली वालों के लिए घर तक राशन पहुंचाने की योजना को कभी भी रद्द नहीं किया गया था। उन्हों कहा कि ई पॉश को हटा दिया गया है। इसलिए नई व्यवस्था में सरकार पर्याप्त सुरक्षा उपाय करें और डोर स्टेप डिलीवरी में बायोमैट्रिक सत्यापन की व्यवस्था को लागू करे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:delhi LG direct on pds system