ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR नई दिल्लीभारी दबाव में है सीआर बिल्डिंग, सीपीडब्ल्यूडी दे चुका रिपोर्ट

भारी दबाव में है सीआर बिल्डिंग, सीपीडब्ल्यूडी दे चुका रिपोर्ट

- बीते साल भी लगी थी आग, लेकिन कोई हताहत नहीं हुआ था -

भारी दबाव में है सीआर बिल्डिंग, सीपीडब्ल्यूडी दे चुका रिपोर्ट
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीTue, 14 May 2024 08:30 PM
ऐप पर पढ़ें

- बीते साल भी लगी थी आग, लेकिन कोई हताहत नहीं हुआ था
- बिल्डिंग का परीक्षण कर अधिकारियों ने कार्यालयों का दबाव कम करने का दिया था सुझाव

- इससे सटे विकास भवन की इमारत भी घोषित की जा चुकी असुरक्षित

नई दिल्ली। वरिष्ठ संवाददाता

आईटीओ स्थित जिस सीआर बिल्डिंग में मंगलवार को भीषण आग लगी, उस पर कार्यालयों का भारी दबाव है और पूर्व में पीडब्ल्यूडी और सीपीडब्ल्यूडी के अधिकारी रिपोर्ट भी दे चुके हैं। इन विभागों के विशेषज्ञों ने माना था कि सीआर बिल्डिंग से दबाव कम किया जाना चाहिए। हेरिटेज घोषित हो चुकी इस इमारत बीते साल भी आग लगी थी, लेकिन गनीमत रही थी कि आग को जल्द ही बुझा लिया गया था और इसमें कोई हताहत नहीं हुआ था। बावजूद इसके एहतियातन कदम नहीं उठाए गए।

इस इमारत में आयकर विभाग और जीएसटी समेत कई अन्य विभागों के कार्यालय हैं। इन विभागों की कई-कई विंग के अधिकारियों के साथ-साथ पुराना रिकॉर्ड भी इसी इमारत में रखा हुआ है। हालात यह है कि इमारत के गलियारों में भी फाइलें और पुराना रिकॉर्ड रखा हुआ था। बिजली के तारों का जाल फैला हुआ है। मंगलवार को हुए अग्निकांड में रिकॉर्ड भी जलकर राख हो गया है। विभागीय सूत्रों ने बताया कि 2017 में लागू हुए जीएसटी के बाद का रिकॉर्ड तो सर्वर पर सुरक्षित मिल जाएगा और उसे रिकवर किया जा सकेगा, लेकिन हजारों फाइलें जल जाने से पुराना रिकॉर्ड अब रिकवर करना संभव नहीं हो सकेगा।

------

बाढ़ के दौरान सप्ताह भर से ज्यादा पानी जमा रहा था इमारत में

2023 में यमुना में जल स्तर बढ़ने से दिल्ली के कई इलाकों में बाढ़ का पानी पहुंच गया था। उस वक्त इस इमारत में भी बाढ़ का पानी करीब सप्ताह भर से ज्यादा दिनों तक जमा रहा था। तब एहतियात के तौर पर पूरे परिसर की बिजली आपूर्ति बंद कर दी गई थी। बाढ़ का पानी जमा हो जाने के दौरान भी इमारत को खतरा हो गया था। पानी निकलने के कई दिन बाद काम काज दोबारा शुरू हो पाया था।

-----

इससे सटी विकास भवन की इमारत असुरक्षित

सीआर बिल्डिंग से सटी विकास भवन की इमारत में भी आयकर विभाग, जीएसटी और आबकारी विभाग समेत दर्जनों विभागों के कार्यालय संचालित हो रहे हैं। इस बिल्डिंग को भी करीब 17 साल पहले सीपीडब्ल्यूडी और पीडब्ल्यूडी के अधिकारी अपनी रिपोर्ट में असुरक्षित घोषित कर चुके हैं। 2007 में हुए सर्वे की रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भी दी गई थी, लेकिन कार्यालयों को दूसरे स्थान पर स्थानांतरित नहीं किया गया। इन कार्यालयों को अभी भी खतरे के बीच इसी असुरक्षित इमारत में संचालित किया जा रहा है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें