DA Image
4 अप्रैल, 2020|4:04|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली के आम लोग हिंसा में शामिल नहीं हैं, विधानसभा में बोले अरविंद केजरीवाल

arvind kejriwal in delhi assembly   ani twitter 26 feb  2020

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार (26 फरवरी) को विधानसभा में कहा कि दिल्ली के आम लोग हिंसा में शामिल नहीं हैं, इस हिंसा में बाहर के लोग, कुछ राजनीतिज्ञ, असामाजिक तत्व शामिल हैं। वहीं दूसरी ओर, मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने घोषणा की कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा में मारे गए हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल के परिवार को दिल्ली सरकार एक करोड़ रुपए का मुआवजा देगी।

केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा में कहा, ''दिल्ली सरकार की नीति के अनुसार हम हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल के परिवार को एक करोड़ रुपये का मुआवजा देंगे।" मुख्यमंत्री ने मंगलवार (25 फरवरी) हेड कॉन्स्टेबल के परिवार से मुलाकात की थी।

दंगा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात नियंत्रण में: एनएसए डोभाल
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल ने दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद बुधवार (26 फरवरी) को कहा कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात नियंत्रण में है। साथ ही उन्होंने बुधवार दोपहर कुछ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा भी किया। उत्तर पूर्वी दिल्ली में तीन दिन पहले शुरू हुई सांप्रदायिक हिंसा में अब तक कम से कम 22 लोगों की मौत हुई है और 200 से अधिक लोग घायल हुए हैं। जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, यमुना विहार, भजनपुरा, चांद बाग, शिव विहार मुख्य रूप से दंगों से प्रभावित हुए हैं।

डोभाल को हिंसा को रोकने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। उन्होंने सीलमपुर में पुलिस उपायुक्त (उत्तर पूर्व) के कार्यालय में दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक की। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) मनदीप सिंह रंधावा, नव नियुक्त विशेष पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव, विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) सतीश गोलचा, उत्तर पूर्वी दिल्ली के डीसीपी वेद प्रकाश आर्य भी बैठक में शामिल थे। यह बैठक 30 मिनट से अधिक समय तक चली।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Common man of Delhi did not indulge in violence CM Arvind Kejriwal in Delhi Assembly