DA Image
18 सितम्बर, 2020|1:08|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली में कोरोना के हालात पर अब केंद्र सरकार ने संभाला मोर्चा, तीन एक्सपर्ट टीमें बनाई गईं

narendra modi amit shah

दिल्ली में कोरोना वायरस (कोविड-19) के हालात को देखते हुए केंद्र ने यहां का मोर्चा अपने हाथों ले लिया है। यही वजह है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप-राज्यपाल अनिल बैजल की करीब चार घंटे चली बैठक के बाद केंद्र ने दिल्ली के लिए विशेषज्ञों की तीन टीमें बनाई हैं। इनका काम दिल्ली के अस्पतालों का निरीक्षण करने के साथ ही कोविड-19 मामलों के क्लीनिकल मैनेजमेंट पर उनको गाइड करना है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने रविवार (14 जून) को इसकी जानकारी दी।

गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने भी एक ट्वीट में बताया कि एम्स दिल्ली, डीजीएचएस, स्वास्थ्य मंत्रालय और दिल्ली सरकार के चार-चार डॉक्टरों की तीन टीमें गठित की गई हैं। दिल्ली नगर निगम के कर्मी उनकी सहायता करेंगे। टीमें दिल्ली में प्रस्तावित कोविड-19 समर्पित अस्पतालों में जाएंगी और सुधार के लिए सिफारिश करेंगी। इसके साथ ही प्रवक्ता ने कहा कि दिल्ली स्थित एम्स ने हिंदी और अंग्रेजी में 24x7 हेल्पलाइन स्थापित की है जहां लोग ओपीडी के लिए समय ले सकते हैं और स्वयंसेवकों से बात कर सकते हैं। यह हेल्पलाइन नंबर 9115444155 है। 

इससे पहले, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले बढ़ने को लेकर एक बैठक की अध्यक्षता करने के बाद रविवार को कहा कि शहर में अगले दो दिनों में कोविड-19 की जांच की संख्या दोगुनी की जाएगी और इसके बाद इसे तीन गुना किया जाएगा। शाह ने नॉर्थ ब्लॉक में अपने कार्यालय में उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ बैठक के बाद कुछ कदमों की घोषणा की। उन्होंने कहा कि अगले दो दिनों में दिल्ली में कोरोना वायरस जांच की संख्या दोगुनी की जाएगी और छह दिनों बाद इसे तीन गुना तक बढ़ाया जाएगा।

गृह मंत्री ने कहा कि कुछ दिनों में दिल्ली के निरुद्ध क्षेत्रों में हर मतदान केंद्र पर कोविड-19 की जांच शुरू की जाएगी और संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाने के लिए अधिक प्रभावित क्षेत्रों यानी हॉटस्पॉट्स में घर-घर जाकर व्यापक स्वास्थ्य सर्वेक्षण कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के मरीजों के लिए बिस्तरों की कमी के मद्देनजर केंद्र दिल्ली को 500 रेलवे बोगियां भी उपलब्ध कराएगा।

इसके अलावा महामारी से जान गंवाने वालों के अंतिम संस्कार के लिए भी विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किये जाएंगे। शाह ने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय,दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग, एम्स और दिल्ली के तीनों नगर निगमों के चिकित्सकों का एक संयुक्त दल राजधानी के कोविड समर्पित अस्पतालों का दौरा कर वहां स्वास्थ्य व्यवस्था और तैयारियों की स्थिति पर रिपोर्ट तैयार करेगा।

सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट ने लगाई थी फटकार
उच्चतम न्यायालय द्वारा दो दिन पहले दिल्ली के अस्पतालों में खराब स्थिति को लेकर फटकार लगाए जाने के बाद यह कदम उठाया गया है। न्यायालय ने राष्ट्रीय राजधानी में कम संख्या में हो रही जांच पर भी नाराजगी जाहिर करते हुए इन्हें बढ़ाने को कहा था। दिल्ली में कोविड-19 की गंभीर स्थिति को देखते हुए दिल्ली उच्च न्यायालय ने भी आप सरकार और केंद्र को कोरोना वायरस से संक्रमितों के लिये बिस्तरों और वेंटिलेटरों की संख्या बढ़ाने को कहा था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Centre constituted 3 teams Delhi hospitals Coronavirus Clinical Management