cbi registered a case of cheating in kuwait - कुवैत में भारतीयों से प्रमाण पत्र सत्यापान के नाम पर जालसाजी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुवैत में भारतीयों से प्रमाण पत्र सत्यापान के नाम पर जालसाजी

नई दिल्ली। प्रमुख संवाददाता कुवैत में भारतीयों से शैक्षणिक प्रमाणपत्रों के सत्यापन के नाम पर धोखाधड़ी की जा रही है। नई दिल्ली स्थित कुवैत दूतावास की तरफ से कथित तौर पर लोगों को ईमेल कर सत्यापन फीस के रूप में एकमुश्त रकम सिंडिकेट बैंक की दिल्ली स्थित एक ब्रांच में जमा कराने के लिए कहा गया। इसी तरीके से कुवैत में धोखाधड़ी का शिकार हुई एक महिला ने मामले की जानकारी भारतीय दूतावास को दी है। विदेश मंत्रालय की शिकायत पर सीबीआई ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। सूत्रों का कहना है कि चाणक्यपुरी, अकबर भवन में स्थित विदेश मंत्रालय के ऑफिस में कार्यरत सह सचिव एम.सी. लूथर की तरफ से सीबीआई निदेशक को शिकायत दी गई थी। शिकायत में कहा गया कि कुवैत स्थित भारतीय दूतावास से जानकारी मिली थी कि कुवैत में रह रहे भारतीयों से कथित रूप से कुवैत दूतावास के प्रतिनिधि शैक्षणिक प्रमाणमत्रों के सत्यापन के नाम धोखाधड़ी कर रहे हैं। इस बाबत कुवैत में रहने वाली भारतीय महिला जिशा जैकब ने शिकायत दी थी। महिला ने बताया था कि दिल्ली स्थित कुवैत दूतावास की तरफ से एक ईमेल मिला था। इसमें कहा गया था कि प्रमाणपत्रों के सत्यापन के लिए उन्हें 17,150 हजार रुपये जमा कराने होंगे। यह राशि जमा कराने के लिए सिंडिकेट बैंक का आईएफएससी कोड भी दिया गया है। इस तरह कुवैत में रह रहे अनेक भारतीयों के साथ जालसाजी हो रही है। कुवैत स्थित भारतीय राजदूत ने कुवैत के दूतावास को जालसाजी की इन घटनाओं से अवगत कराया। सूत्रों का कहना है कि विदेश मंत्रालय से शिकायत मिलने के बाद सीबीआई ने अज्ञात लोगों के खिलाफ आईटी अधिनियम और साजिश रचकर जालसाजी करने की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। वहीं, सिंडिकेट बैंक अधिकारियों को भी अपने स्तर से कार्रवाई करने और सीबीआई को सहयोग करने के लिए कहा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:cbi registered a case of cheating in kuwait