ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR नई दिल्लीमहात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का मामला ::: हेडिंग : कालीचरण महाराज के खिलाफ केस दर्ज

महात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का मामला ::: हेडिंग : कालीचरण महाराज के खिलाफ केस दर्ज

- महात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का मामला - छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने...

महात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का मामला ::: हेडिंग : कालीचरण महाराज के खिलाफ केस दर्ज
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 27 Dec 2021 04:30 PM
ऐप पर पढ़ें

- महात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का मामला

- छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने कहा, समाज में जहर घोलने वालों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई

रायपुर, एजेंसी

छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले की पुलिस ने महात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने के आरोप में धार्मिक नेता कालीचरण महाराज के खिलाफ केस दर्ज किया है। महाराज ने राष्ट्रपिता के हत्यारे नाथूराम गोडसे की प्रशंसा भी की थी। वहीं, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि यदि कोई भी व्यक्ति समाज में जहर घोलने की कोशिश करेगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

बयान पर कांग्रेस नेताओं ने आपत्ति जताई थी : रायपुर के रावणभाठा मैदान में रविवार शाम को दो दिवसीय धर्म संसद के अंतिम दिन कालीचरण महाराज ने अपने भाषण के दौरान राष्ट्रपिता के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की थी। इस दौरान कालीचरण महाराज ने लोगों से कहा था कि उन्हें धर्म की रक्षा के लिए एक कट्टर हिंदू नेता को सरकार के मुखिया के तौर पर चुनना चाहिए। उनके इस बयान पर राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस के नेताओं ने आपत्ति जताई थी। रायपुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि कांग्रेस नेता प्रमोद दुबे की शिकायत पर पुलिस ने शहर के टिकरापारा थाने में कालीचरण महाराज के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि मामले की जांच जारी है।

मुख्यमंत्री बघेल ने सोमवार को रायपुर के स्वामी विवेकानंद विमानतल पर संवाददाताओं के सवाल के जवाब में कहा कि इस मामले में विधि सम्मत कार्रवाई होगी, चाहे वह कोई भी व्यक्ति हो। बघेल ने कहा, ‘कोई भी व्यक्ति यदि इस तरह से बातें करेगा, समाज में उत्तेजना फैलाने की कोशिश करेगा और यदि समाज में जहर घोलने की कोशिश करेगा तब उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा, इस प्रकरण में प्राथमिकी दर्ज हो गई है। पुलिस पूरे मामले को देख रही है। जो तथ्य सामने आएंगे उस हिसाब से कार्रवाई होगी। मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ‘बापू को गाली देकर, समाज में विष वमन करके अगर किसी पाखंडी को लगता है कि वो अपने मंसूबों में कामयाब हो जाएगा, तो उनका भ्रम है। उनके आका भी दोनों सुन लें, भारत और सनातन संस्कृति दोनों की आत्मा पर चोट करने की जो भी कोशिश करेगा, न संविधान उसे बख्शेगा, न जनता उन्हें स्वीकार करेगी। बता दें कि इससे पहले यति नरसिंहानंद गिरि ने गोडसे को सत्य और धर्म का प्रतीक बताते हुए उसकी प्रशंसा की थी।

-----------

महाराष्ट्र विधानसभा में उठा मुद्दा, होगी कार्रवाई

मुंबई। महात्मा गांधी के खिलाफ कथित तौर पर अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करने का मामला सोमवार को महाराष्ट्र विधानसभा में भी उठा। सरकार ने धार्मिक नेता कालीचरण के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। महाराष्ट्र के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री नवाब मलिक ने राज्य विधानसभा में यह मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि कालीचरण महाराज महाराष्ट्र में अकोला से ताल्लुक रखते हैं। उन पर राजद्रोह के तहत मुकदमा दर्ज किया जाए और उन्हें गिरफ्तार किया जाए। भाजपा सदस्य सुधीर मुनगंटीवार ने पूछा कि महाराष्ट्र सरकार क्या कर रही है। कालीचरण महाराज के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं कर रही। कांग्रेस सदस्य नाना पटोले और विजय वडेट्टीवार ने भी मलिक की मांग का समर्थन किया। इस पर महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा कि मलिक और वडेट्टीवार सरकार के प्रतिनिधि हैं। उन्होंने कहा, कार्रवाई करना सरकार का काम है। एमवीए सरकार कालीचरण महाराज की टिप्पणियों पर एक रिपोर्ट मांगेगी और सख्त कार्रवाई करेगी।

--

आप मेरे विचारों को कैद नहीं कर सकते: राहुल गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने महात्मा गांधी के खिलाफ की गई कथित टिप्पणियों की आलोचना की। वायनाड से लोकसभा सांसद राहुल गांधी ने राष्ट्रपिता को उद्धृत करते हुए कहा, ‘आप मुझे जंजीरों में जकड़ सकते हैं, मुझे यातना दे सकते हैं, इस शरीर को नष्ट कर सकते हैं, लेकिन आप मेरे विचारों को कभी कैद नहीं कर सकते।