DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   NCR  ›  नई दिल्ली  ›  ब्यूरो:::दो हजार महिला वकीलों का मुख्य न्यायाधीश से पश्चिम बंगाल की हिंसा का संज्ञान लेने का आग्रह

नई दिल्लीब्यूरो:::दो हजार महिला वकीलों का मुख्य न्यायाधीश से पश्चिम बंगाल की हिंसा का संज्ञान लेने का आग्रह

हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 08:50 PM
ब्यूरो:::दो हजार महिला वकीलों का मुख्य न्यायाधीश से पश्चिम बंगाल की हिंसा का संज्ञान लेने का आग्रह

नोट :::: पूर्व में ब्यूरो की जारी खबर ‘पश्चिम बंगाल के चुनाव बाद हिंसा पर राष्ट्रपति का दरवाजा खटखटाया के साथ लगाएं

----

ब्यूरो ::: दो हजार महिला वकीलों ने सीजेआई को लिखा पत्र

नई दिल्ली, विशेष संवाददाता

देश की 2000 से ज्यादा महिला वकीलों ने देश के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमण को पत्र लिखकर पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद हिंसा का संज्ञान लेने और मामलों की जांच तथा प्राथमिकियां दर्ज करने के लिए एसआईटी बनाने का आग्रह किया है।

पत्र पर 2093 महिला वकीलों के दस्तखत हैं और इनमें कई वकीलें पश्चिम बंगाल की भी हैं। पत्र में दावा किया गया है कि राज्य में 2 मई के बाद से शुरू हुई हिंसा में महिलाओं और बच्चों को भी नहीं बख्शा गया। इस घटना से भारत की हजारों महिला वकीलों की अंतरात्मा को चोट पहुंची है। महिला वकीलों ने कहा है कि हिंसा के कारण संवैधानिक संकट की स्थिति है और इस वजह से राज्य में नागरिकों की हालत खराब है। पत्र में कहा गया है कि गुंडों के साथ पुलिस की मिलीभगत थी। पीड़ित इस हालत में नहीं थे कि वे अपनी शिकायतें दर्ज कराएं और राज्य में संवैधानिक तंत्र पूरी तरह ध्वस्त हो गया। पत्र में पीड़ितों की शिकायतें दर्ज करने के लिए राज्य से बाहर के पुलिस अधिकारी को नोडल अधिकारी बनाने की मांग की गई है।

---

जांच की मांग वाली याचिका पर सुनवाई शुक्रवार को

सुप्रीम कोर्ट इससे पूर्व भाजपा के दो कार्यकर्ताओं की 2 मई को मतगणना के दिन हत्या के मामले में राज्य सरकार को नोटिस जारी कर चुका है। वहीं, राज्य में चुनाव बाद हुई हिंसा की जांच के लिए दायर की गई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुक्रवार को होगी।

संबंधित खबरें