ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR नई दिल्लीब्यूरो::::चीन सीमा से जुड़े शेष मुद्दों का समाधान निकाला जाएगा : जयशंकर

ब्यूरो::::चीन सीमा से जुड़े शेष मुद्दों का समाधान निकाला जाएगा : जयशंकर

नई दिल्ली, विशेष संवाददाता दूसरी बार देश के विदेश मंत्री बने

ब्यूरो::::चीन सीमा से जुड़े शेष मुद्दों का समाधान निकाला जाएगा : जयशंकर
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीTue, 11 Jun 2024 06:15 PM
ऐप पर पढ़ें

नई दिल्ली, विशेष संवाददाता
दूसरी बार देश के विदेश मंत्री बने एस जयशंकर ने कहा है कि वे चीन के साथ सीमा विवाद से जुड़े शेष मुद्दों के समाधान पर ध्यान केंद्रित करेंगे। जयशंकर ने मंगलवार सुबह साउथ ब्लॉक में कार्यभार संभालने के बाद यह बात कही।

भारत और चीन के बीच पिछले चार सालों से पूर्वी लद्दाख से लगती सीमा पर तनाव बना हुआ है। हालांकि, कई दौर की बातचीत के बाद इसमें कमी आई है, लेकिन दो बिंदुओं पर अब भी तनाव कायम है। इस पर जयशंकर ने कहा कि उस देश की सीमा पर कुछ मुद्दे अभी बने हुए हैं और उन्हें सुलझाने की कोशिश की जाएगी। हमारा ध्यान इस बात पर होगा कि बाकी मुद्दों को कैसे सुलझाया जाए। विदेश मंत्री ने कहा कि भारत प्रथम और वसुधैव कुटुम्बकम् भारतीय विदेश नीति के दो दिशा-निर्देशक सिद्धांत होंगे। भविष्य की ओर देखते हुए मैं निश्चित रूप से सोचता हूं कि प्रधानमंत्री मोदी ने हमें जो ये दो सिद्धांत दिए हैं, यही भारतीय विदेश नीति के दो मार्गदर्शक सिद्धांत होंगे। ये हमें विश्व बंधु के रूप में स्थापित करेंगे।

पाकिस्तान के साथ मुख्य मुद्दा आतंकवाद

जयशंकर ने पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद का जिक्र किया और कहा कि इस चुनौती से निपटने के लिए प्रयास किए जाएंगे। इस्लामाबाद को लेकर नई सरकार के रुख के बारे में पूछे जाने पर कहा कि पाकिस्तान के साथ हमारा मुद्दा आतंकवाद है। यह एक अच्छे पड़ोसी की नीति नहीं हो सकती। यह देखना होगा कि हम कैसे इसका समाधान ढूंढ़ सकते हैं।

-----------

कोट --

मेरे लिए यह बहुत सम्मान व सौभाग्य की बात है कि एक बार फिर विदेश मंत्रालय के नेतृत्व की जिम्मेदारी दी गई है। पिछले कार्यकाल में मंत्रालय ने वास्तव में असाधारण प्रदर्शन किया था।

- एस जयशंकर, विदेश मंत्री

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।