DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › नई दिल्ली › ब्यूरो:::रेलमार्ग के विद्युतीकरण से कटिहार-गुवाहाटी का सफर दो घंटे होगा कम
नई दिल्ली

ब्यूरो:::रेलमार्ग के विद्युतीकरण से कटिहार-गुवाहाटी का सफर दो घंटे होगा कम

हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 07:30 PM
ब्यूरो:::रेलमार्ग के विद्युतीकरण से कटिहार-गुवाहाटी का सफर दो घंटे होगा कम

भारतीय रेल ने साढ़े छह सौ किलोमीटर रेलमार्ग का विद्युतीकरण किया

रेल संरक्षा आयुक्त ने सात अक्तूबर से नौ अक्तूबर के बीच अंतिम चरण का परीक्षण किया

नई दिल्ली। विशेष संवाददाता

भारतीय रेल ने बिहार के कटिहार से गुवाहाटी तक लगभग साढ़े छह सौ किलोमीटर रेलमार्ग का विद्युतीकरण कर दिया है। इससे पूर्वोत्तर की यात्रा का समय दो घंटे कम होगा। और इस रेल मार्ग पर अधिक ट्रेनें चलाई जा सकेंगी।

रेल मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि कटिहार-गुवाहाटी सेक्शन पर पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के कुल 649 किलोमीटर रेलमार्ग का विद्युतीकरण का कार्य पूरा हो गया है। रेल संरक्षा आयुक्त (सीआरएस) उत्तरी सीमांत क्षेत्र द्वारा गत सात अक्तूबर से नौ अक्तूबर के बीच अंतिम चरण का परीक्षण किया। इसे उच्चगति की यात्री ट्रेनों एवं भारी मालगाड़ियों के परिचालन के लिए उपयुक्त पाया है।

उन्होंने बताया कि कटिहारा-गुवाहाटी तक रेलवे विद्युतीकरण से हाईस्पीड डीजल की खपत में लगभग 3400 किलोलीटर की कमी आएगी। इस मद में रेलवे 300 करोड़ रुपये विदेशी मुद्रा की बचत करेगा। रेलमार्ग के पूर्ण विद्युतीकरण होने के बाद न्यू जलपाईगुडी, न्यू कूचबिहार में यात्री ट्रेनों के इंजन बदलने की जरूरत नहीं होगी। इससे ट्रेनों की गति बढ़ेगी। इस प्रकार गुवाहाटी से कटिहार-मालदा टाउन के बीच चलने का समय 2 घंटे तक कम होने की संभावना है। ट्रैक क्षमता में भी 10 से 15 फीसदी तक वृद्धि होगी जिससे अधिक ट्रेनें चलाई जा सकेंगी।

पूर्वोत्तर राज्यों के लिए अतिरिक्त ट्रेनें चलार्ई जा सकेंगी

भारतीय रेल 2023-24 तक अपने सभी ब्राड ग्रेज नेटवर्क को विद्युतीकरण करने की महत्वाकांक्षी योजना पर काम कर रही है। इससे बेहतर ईंधन ऊर्जा का इस्तेमाल होगा। ईंधन के व्यय में कमी आएगी और डीजल के मद में कीमती विदेशी मुद्रा की बचत होगी। इससे मणिपुर, मिजोरम, मेघायल, नगालैंड आदि पूर्वोत्तर राज्यों के लिए अतिरिक्त राजधानी व अन्य मेल-एक्सप्रेस ट्रेनें चलार्ई जा सकेंगी।

संबंधित खबरें