अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बवाना नहर में नहाने गए इंजीनियरिंग के दो छात्र डूबे

सुबह से ही पुलिस व गोताखोरों की टीम कर रही है दोनों छात्रों की तलाश में नई दिल्ली प्रमुख संवाददाताबाहरी दिल्ली के बवाना नहर में नहाने गए इंजीनियरिंग के दो छात्र डूब गए, जबकि इनका एक साथी बाल बाल बच गया। हादसा गुरुवार सुबह का है। दोनों छात्रों की तलाश में दमकल व एनडीआरएफ आदि की टीमें नहर में सर्च ऑपरेशन चला रही हैं। देर शाम तक डूबे दोनों छात्रों की तलाश जारी थी। पुलिस मामले की जांच कर रही है। डूबने वाले छात्रों की पहचान राजदीप और शिखर के रूप में हुई है। जबकि इनके साथी की पहचान राजेश के रूप में हुई है। राजदीप लक्ष्मी नगर का रहने वाला है, जबकि शिखर वैशाली गाजियाबाद का निवासी बताया गया है। वहीं जबकि राजेश परिवार के साथ राज नगर गाजियाबाद में रहता है। तीनों बवाना स्थित डीटीयू संस्थान से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे थे। पुलिस कंट्रोनल रूम को गुरुवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे दो युवकों के बवाना नहर में डूबने की सूचना मिली थी। पुलिस ने दमकल को मामले की सूचना दी। दमकल के गोताखोरों ने नहर में घंटों मशक्कत कर दोनों युवकों को तलाशने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया। लेकिन दोनों का अभी कुछ पता नहीं चला है। फाइल पेपर के बाद मौजमस्ती करने निकले थे तीनों दोस्तहादसे के दौरान बाल-बाल बचे राजेश ने पुलिस को बताया कि उसने अपने दोनों दोस्त राजदीप और शिखर के साथ बवाना स्थित डीटीयू संस्थान से इंजीनियरिंग के फाइनल ईयर के पेपर दिये थे। 14 मई को आखिरी पेपर था। तीनों ने बुधवार को मुरथल जाने का प्रोग्राम बनाया था। तीनों बुधवार रात करीब साढ़े दस बजे मुरथल पहुंच गए थे। वहां से साढ़े चार बजे वापिस बवाना आए। गर्मी ज्यादा होने के कारण बवाना नहर में वह नहाने के लिए आ गए थे। यहां पर राजदीप और शिखर नहर के किनारे पर पानी में पैर डालकर बैठे थे। अचानक राजदीप का पैर फिसल गया। शिखर उसे बचाने की कोशिश करने लगा। दोनों नहर में डूब गए। उसने शोर मचाकर सहायता लेने की कोशिश की थी। लेकिन वहां पर कोई नहीं था। उसने पुलिस कंट्रोल रूम को हादसे की सूचना दी थी। दोनों दोस्तों की मदद नहीं कर पाने का गमराजेश ने पुलिस को बताया कि तीनों नहर पर काफी देर तक बैठे थे। तीनों एक दूसरे से किसी बात को लेकर मजाक कर रहे थे। जब राजदीप और शिखर नहर में डूबने लगे तो उन्होंने अपने दोस्त से बचाने के लिए चिल्लाकर सहायता मांगी लेकिन वह उधर से गुजरने वालों से उन्हें बचाने के लिए सिर्फ सहायता ही मांगता रहा लेकिन कोई भी उन्हें बचाने के लिए नहीं आया। परेशान होकर उसने फिर पुलिस को फोन किया। इस बीच उसके दोस्त डूब गए और वह उन्हें बचा नहीं आया। इस बात का उसे जिंदगी भर अफसोस रहेगा। बड़ी कंपनी में काम करना चाहते थे तीनों दोस्त राजेश ने बताया कि तीनों दोस्त जब से एक दूसरे से मिले थे। बेस्ट फ्रेंड बन गए थे। तीनों एक साथ पढ़ाई करते और मौज मस्ती किया करते थे। तीनों के बारे में एक दूसरे के परिवार को भी पता था। एक दूसरे के घर तीनों का आना जाना था। तीनों पढ़ाई में काफी अच्छे थे। तीनों का सपना था कि इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद किसी मल्टी नेशनल कंपनी में नौकरी कर अपना और अपने परिवार की आर्थिक रूप से सहायता करना था। तीनों के सपने काफी बढ़े थे। जिनकों वह हर हालत में पाना चाहते थे। तीनों को ही नहीं आता था तैरना बताया जाता है कि राजदीप,शिवर और राजेश तीनों को तैरना नहीं आता है। अगर एक को भी तैरना आता तो शायद ये दोनो छात्र नहर में डूबते नही। चूंकि राजेश को तैरना नहीं आता था इसलिए वह उधर से गुजरने वालों से सहायता मांगता रह गया और इस दौरान उसके साथी नहर में डूब गए। राजदीप ने परिजनों से कहा था शुक्रवार को आएगा घरलक्ष्मी नगर में रहने वाले राजदीप के परिवार ने बताया कि उसने कहा था कि शुक्रवार को वह घर लौटेगा। राजदीप परिवार में सबसे छोटा है। उसके परिवार में माता-पिता के अलावा तीन बहनें हैं। वह अपने दोस्तों के साथ बवाना स्थित अपने संस्थान के हॉस्टल में दोस्तों के साथ ही रूक जाया करता था। दो दिन पहले राजदीप घर आया था। उसने कहा कि कल पेपर सबमिट करने है। साथ ही हॉस्टल में रखा सामान भी पैक करना है। इसके बाद कौन कब मिलेगा, पता नहीं है। शिखर की बहन ने रात पूछा था कि वह कब लौटेगा शिखर के घर में माता-पिता के अलावा एक भाई अमन और बहन शिवांगी सिंह है। बुधवार रात साढ़े 11 बजे शिखर की बहन शिवांगी सिंह ने शिखर को फोन किया था। उससे पूछने के लिए वह कब घर आएगा। शिखर ने उसे कहा था कि अभी वह अपने दोनों दोस्तों राजदीप और राजेश के साथ मुरथल जाकर पराठे खाने का प्रोग्राम बना रहा है। वह कल घर आएगा। इसके बाद कुछ ओर बात करने के बाद शिखर ने फोन रख दिया था। शिखर की बहन ने मुरथल पराठे खाने की बात सबको बताई थी। सुबह करीब छह बजे उनको डीटीयू संस्थान से किसी का फोन आया। कॉलर ने हादसे की जानकारी दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bawana canal