ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCR नई दिल्लीअमित शाह ने बाढ़ पर काबू पाने की तैयारियों को परखा

अमित शाह ने बाढ़ पर काबू पाने की तैयारियों को परखा

67 एनडीआरएफ की टीमों की मांग राज्यों ने की है 200 से अधिक एनडीआरएफ

अमित शाह ने बाढ़ पर काबू पाने की तैयारियों को परखा
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीThu, 02 Jun 2022 09:50 PM
ऐप पर पढ़ें

67 एनडीआरएफ की टीमों की मांग राज्यों ने की है

200 से अधिक एनडीआरएफ की टीमें रिजर्व में रखी गई हैं

नई दिल्ली, एजेंसी।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मानसून के दौरान देश में बाढ़ की स्थिति से निपटने की तैयारियों को परखा। इसके लिए गुरुवार शाम को गृह मंत्रालय के कार्यालय में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई। इस दौरान शाह ने राज्य सरकार और केंद्र की एजेंसियों के बीच तालमेल बनाए रखने को कहा।

केरल में तीन दिन पहले मानसून आने और तमिलनाडु, बिहार एवं उप-हिमालयी, पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में हुई भारी बारिश को लेकर केंद्र सरकार सतर्क हो गई है। एनडीआरएफ के डीजी अतुल करवाल ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री ने बाढ़ की तैयारियों पर सभी एजेंसियों के साथ समीक्षा बैठक की। एनडीआरएफ सभी राज्य सरकारों के संपर्क में है और राज्यों ने कुल 67 टीमों की मांग की है, जो हमने उपलब्ध करवा दी है। इसके अलावा 200 से अधिक टीमें हमारे पास रिजर्व में रहेंगी।

वहीं, इस बैठक से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि यह एक वार्षिक समीक्षा बैठक है। इसमें गृह मंत्री तैयारियों का जायजा लेते हैं। केंद्र और राज्य एजेंसियों के बीच समन्वय को मजबूत करने के निर्देश देते हैं, ताकि बाढ़ की भविष्यवाणी और जल स्तर में वृद्धि के लिए एक स्थायी प्रणाली हो सके। मालूम हो कि गृह मंत्री ने पिछले साल 15 जून को भी इसी तरह की बैठक की थी।

बैठक में जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्री गजेंद्र शेखावत, केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला, भारत मौसम विज्ञान विभाग के महानिदेशक, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल के महानिदेशक और केंद्रीय जल आयोग के महानिदेशक सहित अन्य संबंधित अधिकारी बैठक में मौजूद रहे। बैठक हाईब्रिड मोड में आयोजित की गई थी। मालूम हो कि देश के असम, बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल राज्य बाढ़ से सबसे अधिक प्रभावित राज्य हैं।

-

प्रौद्योगिकियों को अपग्रेड करने के निर्देश

गृह मंत्री ने भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) और केंद्रीय जल आयोग (सीडब्ल्यूएसी) को अधिक सटीक मौसम और बाढ़ पूर्वानुमान के लिए अपनी प्रौद्योगिकियों को अपग्रेड करना जारी रखने का निर्देश दिया।

-

एसओपी तैयार करे एनडीआरएफ

अमित शाह ने एनडीआरएफ को भारी बारिश वाले क्षेत्रों में स्थानीय, नगरपालिका और राज्य स्तर पर बारिश की पूर्व चेतावनी जारी करने के लिए राज्यों के सहयोग से एक एसओपी तैयार करने का भी निर्देश दिया।

‘दामिनी ऐप को स्थानीय भाषा में मुहैया कराएं

मंत्री ने ‘दामिनी ऐप को सभी स्थानीय भाषाओं में मुहैया कराने के भी निर्देश दिए। यह ऐप तीन घंटे की बिजली चेतावनी देता है, जो जान-माल के नुकसान को कम करने में मदद कर सकता है। उन्होंने एसएमएस, टीवी, एफएम रेडियो एवं अन्य माध्यमों से लोगों को बिजली गिरने की चेतावनी समय पर प्रसारित करने का भी निर्देश दिया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें