ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR नई दिल्लीडीटीसी के बेडे में शामिल होंगी 1540 इलेक्ट्रिक बसें

डीटीसी के बेडे में शामिल होंगी 1540 इलेक्ट्रिक बसें

डीटीसी के बेड़े में जल्द शामिल होंगी 1540 इलेक्ट्रिक बसें - दो महीने में

डीटीसी के बेडे में शामिल होंगी 1540 इलेक्ट्रिक बसें
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीTue, 14 May 2024 05:15 PM
ऐप पर पढ़ें

डीटीसी के बेड़े में जल्द शामिल होंगी 1540 इलेक्ट्रिक बसें
- दो महीने में मिल जाएंगी 500 बड़ी बसें

- 1040 छोटी, 9 मीटर लंबी बसों के आपूर्ति भी मिलेगी

- दिल्ली में सफर होगा सहूलियत भरा

राजीव शर्मा

नई दिल्ली।

डीटीसी के बेड़े में 1540 इलेक्ट्रिक बसें और शामिल होंगी। दो से तीन महीने में इन सभी बसों की आपूर्ति दिल्ली ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन को मिल जाएगी। इन बसों को डीटीसी के अलग-अलग डिपो में भेजा जाएगा। इन बसों के मिल जाने से डीटीसी के बेड़े में इलेक्ट्रिक बसों की संख्या 2800 से ज्यादा हो जाएगी।

डीटीसी के बेड़े में फिलहाल 1300 इलेक्ट्रिक बसें हैं। डीटीसी के अधिकारियों का दावा है कि इन बसों का संचालन शुरू होने से यात्रियों के लिए सफर न केवल सहूलियत भरा हुआ है, बल्कि बसों से उत्सर्जित होने वाले कार्बन में भी कमी आई है। डीटीसी के मुख्य महाप्रबंधक अनुज सिन्हा ने बताया कि अगले दो से ढाई महीने में डीटीसी को 12 मीटर लंबाई वाली करीब 500 बड़ी बसें मिल जाएंगी। इनकी आपूर्ति जून में शुरू हो जाएगी। उन्होंने बताया कि 9 मीटर लंबाई वाली इलेक्ट्रिक बसों की आपूर्ति भी जल्द ही मिलनी शुरू हो जाएंगी। अगले तीन महीनों में 1040 बसों की आपूर्ति मिलने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि इन छोटी बसों में 20 यात्रियों के बैठने की क्षमता होगी। जैसे-जैसे बसों की आपूर्ति मिलती रहेगी, वैसे ही उन्हें अलग-अलग डिपो में भेजकर रूटों पर यात्रियों के लिए उतार दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि दोनों तरह की बसों की आपूर्ति के लिए इन्हें सप्लाई करने वाली कंपनी के पदाधिकारियों से वार्ता हो चुकी है।

-----

चार्जिंग के लिए बढ़ाए जा रहे संसाधन

डीटीसी के अधिकारियों ने बताया कि जैसे-जैसे इलेक्ट्रिक बसों की संख्या बेड़े में बढ़ रही है, उन्हें चार्ज करने के लिए डिपो में संसाधन भी बढ़ाए जा रहे हैं। जिन डिपो में पहले से चार्जिंग स्टेशन बन चुके हैं, बसों के अनुपात में उनकी संख्या बढ़ाई जाएगी और जिनमें जल्द ही बसें मिलने वाली हैं, उनमें चार्जिंग स्टेशन जल्द ही बना लिए जाएंगे।

-----

चरणबद्ध तरीके से हटाई जाएंगी सीएनजी बसें

दिल्ली में डीटीसी की प्लानिंग है कि चरणबद्ध तरीके से सभी सीएनजी बसों को सड़कों से हटा दिया जाएगा। इसी वजह से बीते 8-10 साल से डीटीसी ने कोई नई बस नहीं खरीदी है। अब जिन सीएनजी बसों की मियाद पूरी हो रही है, उन्हें परिचालन से बाहर किया जा रहा है। धीरे-धीरे इन्हें इलेक्ट्रिक बसों से बदल दिया जाएगा। अधिकारियों का कहना है कि 2025 के अंत तक दिल्ली में सभी बसें इलेक्ट्रिक हो जाएंगी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।