ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR नई दिल्लीजम्मू कश्मीर में अवैध विदेशी नागरिकों की पहचान करेगी समिति

जम्मू कश्मीर में अवैध विदेशी नागरिकों की पहचान करेगी समिति

- 13 वर्ष से रह रहे नागरिकों को उनके देश भेजने की कोशिशों को समिति

जम्मू कश्मीर में अवैध विदेशी नागरिकों की पहचान करेगी समिति
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 10 Jul 2024 05:30 PM
ऐप पर पढ़ें

जम्मू, एजेंसी। जम्मू कश्मीर प्रशासन ने 13 वर्ष से इस केंद्र शासित प्रदेश (पूर्ववर्ती जम्मू कश्मीर राज्य) में अवैध रूप से रह रहे विदेशी नागरिकों की पहचान के लिए सात सदस्यीय एक समिति का गठन किया है। इसका लक्ष्य उन्हें उनके देश में भेजने को सुगम बनाना है। समिति को मासिक रिपोर्ट तैयार करना होगा और हर महीने के पांचवें दिन उसे केंद्रीय गृह मंत्रालय को सौंपना होगा।
इस समिति को अवैध शरणार्थियों की पृष्ठभूमि और बायोमेट्रिक विवरण इकट्ठा करने तथा नियमित रूप से उसका अद्यतन डिजिटल रिकॉर्ड बनाए रखने का काम सौंपा गया है। सरकार के प्रधान सचिव (गृह विभाग) चंद्रकेर भारती ने एक आदेश में कहा कि 2011 से केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में अवैध रूप से अधिक समय से रह रहे विदेशी नागरिकों की पहचान के लिए समिति के पुनर्गठन की मंजूरी दी जाती है।

गृह विभाग के प्रशासनिक सचिव अध्यक्ष होंगे

गृह विभाग के प्रशासनिक सचिव इस समिति के अध्यक्ष होंगे जबकि पंजाब के विदेशी क्षेत्रीय पंजीकरण अधिकारी, जम्मू और श्रीनगर के अपराध जांच विभाग (विशेष शाखा) कार्यालयों के संबंधित अधिकारी, सभी जिलों के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक (विदेशी पंजीकरण) एवं एनआईसी के राज्य समन्वयक उसके सदस्य होंगे।

समिति प्रक्रिया पर रखेगी निगरानी

गृह विभाग ने समिति को केंद्रशासित प्रदेश में अवैध रूप से रह रहे विदेशियों का पता लगाने और उन्हें उनके देश में भेजने के प्रयासों में तालमेल कायम करने और इस प्रक्रिया पर निगरानी रखने का भी निर्देश दिया है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।