ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCR गुरुग्रामजेल कर्मचारी बता कर ठगी करने वाले दो जालसाज गिरफ्तार

जेल कर्मचारी बता कर ठगी करने वाले दो जालसाज गिरफ्तार

गुरुग्राम,वरिष्ठ संवाददाता। गुरुग्राम पुलिस ने दो जालसाजों को गिरफ्तार किया है, जिन्होंने खुद को जेल प्रशासन का कर्मचारी बताकर भोंडसी जेल के तीन...

जेल कर्मचारी बता कर ठगी करने वाले दो जालसाज गिरफ्तार
हिन्दुस्तान टीम,गुड़गांवTue, 28 Nov 2023 11:30 PM
ऐप पर पढ़ें

गुरुग्राम। गुरुग्राम पुलिस ने दो जालसाजों को गिरफ्तार किया है, जिन्होंने खुद को जेल प्रशासन का कर्मचारी बताकर भोंडसी जेल के तीन बंदियों से उनके परिवारों से पैसे लेकर ठगी की थी। गिरफ्तार आरोपी पहले भी भोंडसी जेल में बंद थे।
पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार आरोपियों की पहचान उत्तर प्रदेश के बरेली के सैनिक कॉलोनी निवासी मधुर सक्सेना और कनिष्क भटनागर के रूप में हुई है।अपराध शाखा सेक्टर-31 की टीम ने सोमवार दोनों आरोपियों को बरेली से गिरफ्तार कर लिया।भोंडसी जेल के उपाधीक्षक की शिकायत पर भोंडसी थाने में 24 नवंबर को मामला दर्ज किया गया था।

पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि दोनों आरोपी जेल में रह चुके हैं। आरोपी ने कोविड-19 के समय से ऑनलाइन पैसे ऑर्डर करने की व्यवस्था का फायदा उठाकर धोखाधड़ी की। आरोपियों को ई-कोर्ट के जरिए वकीलों के मोबाइल नंबर मिलते हैं और उनसे पता करते हैं कि उनका कोई मुवक्किल जेल में है या नहीं। एसीपी अपराध वरुण दहिया ने बताया कि जेल में अपने ग्राहकों के बारे में पूछताछ करके वह कैदियों के परिवार के सदस्यों के मोबाइल नंबरों के बारे में जानकारी प्राप्त करते थे और उनके परिवार से संपर्क करते थे। खुद को जेल प्रशासन का कर्मचारी बताकर संबंधित कैदी के घायल होने की बात कही और पैसे ट्रांसफर करने को कहते हैं। यह पता चला है कि उन्होंने तीन कैदियों को धोखा दिया था, लेकिन हम आरोपियों से पूछताछ कर रहे हैं।

एसीपी दहिया ने बताया कि आरोपी के पिछले आपराधिक रिकॉर्ड के अनुसार, आरोपी कनिष्क भटनागर के खिलाफ साइबर पश्चिम पुलिस स्टेशन, गुरुग्राम में धोखाधड़ी का एक मामला पहले से ही दर्ज है और आरोपी मधुर सक्सेना के खिलाफ मारपीट, धोखाधड़ी, बलात्कार, पोक्सो अधिनियम के तहत मामले दर्ज है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें