DA Image
4 जून, 2020|11:45|IST

अगली स्टोरी

सड़क पर और बाजार में आवाजाही कम, छुट्टी जैसा माहौल

सड़क पर और बाजार में आवाजाही कम, छुट्टी जैसा माहौल

कोरोना वायरस से बचाव के लिए शहर के काफी लोगों में जागरूकता आई है। इसके के चलते लोग घरों से बाहर निकलने से बचने लगे हैं। नतीजतन शहर की सड़कों पर आवाजाही कम होने लगी है, बाजारों में भी चहल पहल कम हो गई है। केवल जरूरी काम होने पर ही लोग अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं। सड़क पर और बाजार में छुट्टी जैसा माहौल बन गया है। इससे पहले मॉल इत्यादि 31 मार्च तक बंद कर दिए गए थे।

शहर के मुख्य सदर बाजार में आम दिनों में रोजाना औसतन 20 हजार से ज्यादा लोगों की आवाजाही होती थी। इसके लिए सुबह नौ बजे से लोगों का अवागमन शुरू हो जाता था, जो देर रात तक चलता रहता था। दुकानों पर भी ग्राहकों की भीड़ रहती थी पर अब सदर बाजार का नजारा बदला-बदला सा नजर आ रहा है। चीन से दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आने से और जागरूकता के बढ़ने के चलते लोग भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से परहेज करने लगे हैं।

बाजार की रौनक घटी

बाजार में लोगों की आवाजाही से रौनक कम हो गई है। इससे कारोबारियों का व्यापार ठप सा पड़ गया है। दुकानदार विरेंद्र, मनीष, गौतम आदि ने बताया कि बाजार में गिने चुने लोग ही पहुंच रहे हैं। शाम के समय भी बाजार में लोगों की संख्या ज्यादा नहीं होने से सन्नाटा पसरा रहता है। उधर विभिन्न मार्गों और सड़कों पर भी लोगों का आना-जाना कम हो गया है। इससे कई इलाकों में सड़कें एक दम सुनसान से हो गई हैं।

यहां से भी लोगों ने दूरी बनाई

सेक्टर-29 सहित, सिविल लाइंस, गोल्फ कोर्स एक्सटेंशन रोड, रेलवे रोड, झाडसा रोड आदि पर वाहनों की आवाजाही और पैदल राहगीरों का अवागमन भी कम हो गया है। वहीं सेक्टर-14, सेक्टर-29, सेक्टर-15, सेक्टर-40, सेक्टर-31, सेक्टर-50 सहित अन्य सेक्टरों की मार्केट में भी लोगों ने आना कम कर दिया है। इन सेक्टरों की मार्केट में कई व्यंजनों का स्वाद चखने के लिए लोग रोजाना शाम को पहुंचते हैं। इसके अलावा कई बड़े रेस्टोरेंट भी हैं, जहां आम दिनों में भीड़-भाड़ रहती है। कोरोना के भय के चलते लोग यहां भी कम पहुंच रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Traffic on the road and in the market less holiday-like atmosphere