DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर के 20 फीसदी मास्टर ड्रेनों की सफाई बाकी, जलभराव होगा

पड़ताल

- डेढ़ महीने से चलाया जा रहा सफाई अभियान, 30 जून तक ड्रेन की सफाई करने का लक्ष्य था

मानसून नजदीक है पर अभी तक जिम्मेदार एजेंसियां बारिश की पानी की निकासी के लिए शहर में ड्रेनों की सफाई नहीं कर पाईं हैं। इससे बारिश के दौरान जलभराव का खतरा मंडरा रहा है, जबकि 30 जून तक सभी ड्रेन की सफाई का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। इधर अभी भी 20 फीसदी से अधिक मास्टर ड्रेन की सफाई का काम बाकी है।

गौरतलब है कि शहर में ड्रेन की सफाई का कार्य चलते डेढ़ महीने बीत चुके हैं पर अभी तक मात्र 80 फीसदी ड्रेनों की सफाई कराई जा सकी है। इससे पहले जीएमडीए और अन्य एजेंसियों ने 30 जून तक सफाई का कार्य पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया था।

ड्रेन कई जगह बंद पड़ीं

स्थान: ओल्ड दिल्ली रोड

समय: सुबह 11 बजे

रोड के दोनों ओर से बरसाती पानी के निकासी के लिए बनाई गई ड्रेन की अभी तक सफाई नहीं कराई जा सकी है। करीब एक किलोमीटर लंबी ड्रेन कई जगह बंद पड़ी है, तो कई स्थान पर टूटी हुई हुई है। बंद पड़ी ड्रेन को खोला भी नहीं गया है। ऐसे में बारिश होने पर संजय ग्राम, अतुल कटारिया चौक समेत कई क्षेत्रों के पानी के ड्रेन में जाने के बजाय हुडा दफ्तर, सेक्टर-14 बाजार और केंद्रीय विद्यालय के बाहर ही जमा होने से जलभराव का खतरा है।

ड्रेन में मिट्टी, कूड़ा भरा पड़ा

स्थान: एयरफोर्स स्टेशन

समय: सुबह 11.30 बजे

अतुल कटारिया चौक से डूडाहेड़ा जाने वाली रोड के किनारे बनी मास्टर ड्रेन में भी अभी सफाई कार्य नहीं कराया जा सका है। ड्रेन में मिट्टी, कूड़ा करकट भरा पड़ा है। कई जगह ड्रेन खुली है पर हालात ठीक नहीं हैं। करीब 3 किलोमीटर लंबी ड्रेन की सफाई कराने का जिम्मा जीएमडीए के पास है। इसकी सफाई नहीं कराई गई तो आसपास जलभराव का खतरा है।

कई जगह टूट गई है ड्रेन

स्थान: सेक्टर-49/47 डिवाइडिंग रोड

समय: दोपहर 12.30 बजे

मानसून की पहली बारिश से साउथ सिटी-2 में जलभराव होने के बाद भी सेक्टर-49/47 डिवाइडिंग रोड की मास्टर ड्रेन की सफाई नहीं कराई गई। ड्रेन कई स्थानों पर टूटी पड़ी है। बारिश आने से पहले इस ड्रेन की सफाई कार्य नहीं कराया गया और टूटी ड्रेन को ठीक नहीं कराया गया तो बारिश होने पर फिर से जलभराव का खतरा है। क्योंकि इस ड्रेन से साउथ सिटी-2,सेक्टर-49, 50 समेत अन्य स्थानों के बरसाती पानी की निकासी होती है।

-शहर के मास्टर ड्रेनों की सफाई का कार्य 80 फीसदी पूरा हो चुका है। 20 फीसदी कार्य जल्द पूरा कर लिया जाएगा। कई जगह पर मशीन लगाकर सफाई कराई जा रही है। इस महीने तक ड्रेनों का सफाई कार्य पूरा हो जाएगा।

बलराज, एसडीई जीएमडीए

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The rest of the city s 20 percent Master Drains will be irrigated