DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   NCR  ›  गुरुग्राम  ›  शहर के 115 सेक्टर में प्रदूषण मापक यंत्र लगेंगे
गुड़गांव

शहर के 115 सेक्टर में प्रदूषण मापक यंत्र लगेंगे

हिन्दुस्तान टीम,गुड़गांवPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 03:00 AM
शहर के 115 सेक्टर में प्रदूषण मापक यंत्र लगेंगे

गुरुग्राम। मिलेनियम सिटी पर प्रदूषित शहर के लगे दाग को मिटाने के लिए पर्यावरणविदों सहित जिम्मेदार एजेंसियां और निजी कंपनियां भी छोटे-छोटे प्रयास कर रही हैं। इन प्रयासों के जरिये शहर की आबोहवा को साफ रखने की कोशिश की जा रही है। इस कड़ी में गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) ने एक योजना तैयार की है। योजना के तहत शहर के सभी सेक्टरों और कॉलोनियों में एक-एक प्रदूषण मापक यंत्र लगवाया जाएगा। इनके जरिये क्षेत्र वार प्रदूषण के स्तर की निगरानी की जाएगी और उसके अनुसार प्रदूषण को कम करने और पर्यावरण को संरक्षित करने के कदम उठाए जा सकेंगे।

पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर जीएमडीए ने पहले सीएसआर के तहत 23 अलग-अलग स्थानों पर ऐसे प्रदूषण मापक यंत्र लगवाए थे। ये यंत्र सरकारी और निजी इमारतों के अलावा ट्रैफिक सिग्नल के पास भी लगे हुए हैं। इनके जरिये प्रदूषण के पीएम 2.5 और पीएम 10 की मॉनिटरिंग की जा रही है। जिन 23 स्थानों पर यह यंत्र लगे हैं, वहां और उनके आस-पास के इलाकों में प्रदूषण का कितना स्तर है इसका अधिकारी आसानी से पता लगा पा रहे हैं। जिम्मेदार एजेंसियों को शहर के सभी इलाकों से प्रदूषण के स्तर की जानकारी मिल सके, इसके लिए अब शहर के सभी सेक्टरों और कॉलोनियों में इस तरह के प्रदूषण मापक यंत्र लगवाने की योजना तैयार की गई है। जीएमडी अपने खर्च के साथ-साथ सीएसआर के तहत यह निजी कंपनियों के सहयोग से यह काम पूरा करवाएगा।

शहर में हैं 115 सेक्टर

मिलेनियम सिटी में नए और पुराने शहर में कुल मिलाकर 115 सेक्टर हैं। जीएमडीए के अधिकारियों ने बताया कि अभी तक जिन 23 स्थानों पर ये प्रदूषण मापक यंत्र लगे हैं, वे सभी नए गुरुग्राम में हैं। नई योजना के अनुसार पुराने शहर के सेक्टरों और कॉलोनियों के अलावा औद्योगिक क्षेत्रों में भी इस तरह के यंत्र लगवाए जाएंगे। इससे वहां पर फैल रहे प्रदूषण के बारे में भी पता लगाया जाएगा। उसे कम करने के प्रयास किए जाएंगे।

संबंधित खबरें