DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'नरेंद्र इंडोनेशिया और आस्ट्रेलिया के पर्वतों को फतह करेंगे'

दक्षिण अफ्रीका की पर्वत चोटी किलिमंजारो फतह करने वाले नरेंद्र जल्द ही इंडोनेशिया और आस्ट्रेलिया में पर्वत चोटियों का फतह करने का अभियान शुरू करेंगे। नरेंद्र ने इसकी तैयारी भी शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि, जल्द ही अभियान की तारीख घोषित हो जाएगी।

इससे पहले दक्षिण अफ्रीका से लौटने पर सोमवार को पर्वतारोही नरेंद्र का दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर परिजनों ने स्वागत किया गया। बाद में डीएलएफ फेज-2 में भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कार्यालय पर नरेन्द्र को सम्मानित किया गया। यहां लोगों ने उसे फूलमाला पहनाकर सम्मानित किया। साथ ही भविष्य में और भी पर्वतों को फतह करने की शुभकामना दी। इस दौरान नरेंद्र ने बताया कि, उनका अगला लक्ष्य इंडोनेशिया में कार्स्टेंज पिरामिड और ऑस्ट्रेलिया के कोजिस्जको पर्वत चोटी पर पर्वतारोहण का है। उन्होंने इसकी तैयारी भी शुरू कर दी है।

कई रिकॉर्ड तोड़े

हिंदुस्तान टीम से बातचीत में नरेंद्र ने बताया कि किलिमंजारों पर पर्वतारोहण का आयोजन अफ्रीका की एक एजेंसी ने किया था। उसके बुलाने पर 20 जुलाई को वह यहां से गया था। बाद में नरेंद्र यादव ने कहा कि 23 जुलाई को सुबह 6:40 बजे साउथ अफ़्रीका की सबसे ऊंची चोटी किलिमंजारो पर भारतीय तिरंगा फहराया था। उसने 17 घंटे में चढ़ाई पूरा कर यहां सबसे जल्दी चढ़ने के 34 घंटे के रिकॉर्ड को तोड़ा। वहीं सबसे जल्दी उतरने का रिकॉर्ड 20 घंटे का था, जिसे तोड़कर मात्र 9 घंटे 7 मिनट में उतरने का नया रिकॉर्ड बनाया।

रोहतक का पर्वतारोही भी साथ था

नरेंद्र ने भाजयुमो कार्यालय में बताया कि अभियान में 9 देशों के 12 पर्वातारोही साथ थे। हिंदुस्तान से मेरे साथ रोहतक के रोहताश भी शामिल हुए। इधर, बेटे की उपलब्धि पर सेना से सेवानिवृत्त नरेंद्र के पिता कृष्णचंद ने भी उनका हौसला बढ़ाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Narendra welcomes returning of South Africa's Kilimanjaro