DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मानेसर में ऑटोमेटिव तकनीक के दो अंतर्राष्ट्रीय केंद्र हुए विकसित

मानेसर में ऑटोमेटिव तकनीक के दो अंतर्राष्ट्रीय केंद्र हुए विकसित

गुरुग्राम। कार्यालय संवाददाता

केंद्रीय भारी उद्योग एवं लोक उपक्रम मंत्रालय की ओर से गुरुग्राम के आईएमटी मानेसर में ऑटोमेटिव तकनीक के दो अंतरराष्ट्रीय केंद्र (आईकैट) शुरू किए गए। जिन पर 1100 करोड़ रुपये की लागत आई है। आईकैट सेंटर-दो में ऑटो इंडस्ट्री के लिए विकसित की गई। बुधवार को केंद्रीय भारी उद्योग एवं लोक उपक्रम मंत्री अनंत गीते ने विश्व स्तरीय टेस्टिंग सुविधा का उद्घाटन किया।

उन्होंने कहा कि आईएमटी मानेसर में विकसित किए गए आईकैट के दोनो सेंटरों में ऑटो मोबाईल इंडस्ट्री के लिए विभिन्न प्रकार की 16 टेस्टिंग सुविधा विकसित की जा रही जो विश्व स्तरीय हैं। उन्होंने कहा कि अब केवल टेस्ट ट्रैरक सुविधा विकसित की जानी है। जिसके बाद आईकैट मानेसर पूर्ण रूप से ऑटो मोबाईल इंडस्ट्री के लिए टेस्टिंग सेंटर बन जाएगा।यहां पर ऑटो इंडस्ट्री को हर प्रकार की टेस्टिंग सुविधा उपलब्ध होगी।

अनंत गीते के अनुसार मानेसर में आईकैट सेंटर-1 लगभग 8 एकड़ भूमि पर विकसित किया गया है। जहां पर टेस्टिंग की 10 अलग-अलग सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है। इसी प्रकार आईकैट सेंटर-2 को लगभग 46.6 एकड़ भूमि पर विकसित किया जा रहा है। इसमें 6 अलग-अलग टेस्टिंग सुविधाएं उपलब्ध होंगी। इस मौके पर उद्योग मंत्रालय के संयुक्त सचिव विश्वजीत सहाय, सड़क परिवहन तथा राजमार्ग मंत्रालय के संयुक्त सचिव अभय दामले, मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड के प्रबंध निदेशक व मुख्य कार्यकारी अधिकारी कैनीची अयुकावा, नैट्रिप की मुख्य कार्यकारी अधिकारी तथा परियोजना निदेशक नीति सरकार, आईकैट के निदेशक दिनेश त्यागी सहित भारतीय ऑटोमोटिव उद्योग से जुड़े कई लोग मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Manesar has developed two international centers of automotive technology