DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूलों में पीटीएम के नाम पर हुई खानापूर्ति

गुरुग्राम। वरिष्ठ संवाददाता

आओ स्कूल चलें कार्यक्रम के तहत बुधवार को जिले के सभी स्कूलों में पीटीएम (पैरेंट टीचर मीटिंग) हुई। इस कार्यक्रम के तहत 20 से अधिक स्कूलों में शिक्षा विभाग एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों ने पीटीएम की अध्यक्षता की। बावजूद इसके ज्यादातर स्कूलों में महज खानापूर्ति हुई है।

अन्य स्कूलों में संबंधित स्कूल प्रमख एवं प्रधानाचार्यों ने पीटीएम कराई। नए शिक्षा सत्र में शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित दूसरी मेगा पीटीएम थी।

जिला शिक्षा अधिकारी प्रेमलता ने भी इस खानापूर्ति को स्वीकार किया। उन्होंने कहा कि यह स्थिति स्कूल प्रमुखों द्वारा इस पीटीएम के उद्देश्यों को गंभीरता से नहीं लेने की है। अभिभावकों को विधिवत सूचना नहीं होने से भी दिक्कत हुई है। उन्होंने संबंधित ब्लॉक शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ नाराजगी प्रकट की। उन्होंने बताया कि वह खुद जिन स्कूलों में पहुंची, वहां किसी भी बच्चे की डायरी पर इस पीटीएम की सूचना नहीं थी। वहीं बच्चों को भी इसके बारे में ठीक से पता नहीं था। ऐसे में उन्होंने स्कूल के फीडबैक रजिस्टर में

नकारात्मक एतराज किया है। उन्होंने सभी ब्लाक शिक्षा अधिकारियों को इस तरह की लापरवाही आगे नहीं होने देने की चेतावनी दी।

अभिभावकों का उत्साहवर्धन था उद्देश्य

जिला शिक्षा अधिकारी के मुताबिक इस पीटीएम का उद्देश्य निजी स्कूलों की तर्ज पर अभिभावकों एवं शिक्षकों के बीच संवाद करना था। इसमें व्यवस्था दी गई थी कि अभिभावक एवं शिक्षक एक दूसरे से बच्चे के गुणों एवं अवगुणों को जान सकें। साथ ही अभिभावकों को यह समझाना भी था कि बच्चों की पढ़ाई में अभिभावकों का भी वही स्थान है जो स्कूल में शिक्षकों का होता है।

स्कूलों में पहुंचे अधिकारी:

इस कार्यक्रम के तहत राजकीय माध्यमिक विद्यालय सेक्टर 14 में अतिरिक्त उपायक्त आरके सिंह ने पीटीएम की अध्यक्षता की। जबकि एसडीएम संजीव सिंगला राजकीय माध्यमिक विद्यालय समसपुर, जिला शिक्षा अधिकारी वरिष्ठ विद्यालय एवं मिडिल स्कूल अर्जुन नगर पहुंची। इसी प्रकार जिला परियोजना समन्वयक मुकेश कुमार ने बाल विद्यालय एवं ब्लाक शिक्षा अधिकारी कैप्टन इंदू बोकन ने वरिष्ठ विद्यालय सुखराली में कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इसी प्रकार ब्लाक मौलिक शिक्षा अधिकारी सुशील गौड़, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार भी विभिन्न स्कूलों में पहुंचे। सोहना में एसडीएम सतीश यादव ने वरिष्ठ विद्यालय भोंड़सी तथा ब्लाक शिक्षा अधिकारी रितु चौधरी ने वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय पालड़ा एवं ब्लाक मौलिक शिक्षा अधिकारी सरोज दहिया ने सांप की नंगली स्कूल पहुंचे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Khanpururam in the name of PTM in schools