Incident or murder: One killed in car burns one - कार में आग से एक व्यक्ति जिंदा जला DA Image
7 दिसंबर, 2019|5:53|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कार में आग से एक व्यक्ति जिंदा जला

गांव बेहरमपुर मोड़ के पास एक कार में रहस्यमय तरीके से लगी आग में एक व्यक्ति की जिंदा जलकर की मौत हो गई। पुलिस ने शनिवार देर रात जली कार बरामद कर ली। शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवा दिया गया है। कार नारनौल के पते पर पंजीकृत है। अभी तक मृतक की पहचान नहीं हो़ पाई है। पुलिस हत्या और हादसे दोनों स्तर पर जांच में जुटी है।

थाना प्रभारी विष्णु प्रसाद ने बताया कि शनिवार रात को नाका लगा कर जांच कर रहे थे। इसी दौरान रात एक बजे सूचना मिली कि गांव बेहरमपुर मोड़ के पास कार में आग लगी हुई है। मौके पर पहुंचा तो देखा कि कार जल कर खाक हो चुकी थी। ड्राइवर वाली सीट के बगल में बैठे व्यक्ति की जलकर मौत हो गई थी। कार के नंबर के आधार पर जांच करने पर पता चला कि कार गांव बोहरकलां तहसील नारनौल जिला महेंद्रगढ़ के राजेश के नाम पर कार पंजीकृत है।

थाना प्रभारी ने बताया कि राजेश से संपर्क करने पर उसने बताया कि कार उसने अपने भांजे को दी थी। वह उसे ओला कंपनी में टैक्सी के लिए प्रयोग करता था। जब उससे संपर्क साधा गया तो सामने आया कि कार को ड्राइवर चला रहा था। हालांकि अभी तक इसकी पुष्ट नहीं हो पाई है कि कार ड्राइवर चला रहा था या कोई और। इसकी जांच चल रही है। अभी मरने वाले की पहचान नहीं हो पाई है।

हादसा या हत्या?

पुलिस के लिए यह मामला काफी पेचीदा हो गया है। पहले तो पुलिस इसे हादसा मान रही थी। लेकिन जैसे-जैसे इस घटना की जांच आगे बढ़ी तो इसमें हत्या से जुड़े तथ्य भी सामने आने लगे। हालांकि जब पुलिस मौके पर पहुंची तो कार चलकर राख हो चुकी थी। पुलिस जांच में सामने आया है कि ड्राइवर सीट के बगल वाली सीट का गेट भी खुला था। ऐसे में पुलिस अब दोनों कोणों से जांच करने में जुटी हुई है।

कार में लगी थी सीएनजी

कार में सीएनजी लगी हुई थी। लेकिन उसका सिलेंडर नहीं फटा है। कार में आग इंजन से शुरू हुई थी और 15 से 20 मिनट में कार जलकर राख हो गई। हालांकि चर्चा इसकी भी है कि ड्राइवर कार से गायब है, लेकिन अभी इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। ऐसे में पुलिस अभी कुछ भी कहने से बच रही है।

कोट:

बेहरमपुर मोड़ के पास कार में जिंदा जलकर एक व्यक्ति की मौत हो गई है। मृतक की पहचान नहीं हो पाई है। जांच चल रही है। कार ओला कंपनी में टैक्सी के रूप में प्रयोग की जा रही थी। पुलिस हत्या और हादसा दोनों तरह से जांच कर रही है।

बीरम सिंह, एसीपी सोहना

-------------

पहले भी हुआ है ऐसा हादसा

एक सितंबर 2017 की रात को गांव उल्लावास के पास कार में आग लग गई थी। उसमें जलकर तीनों दोस्तों की मौत हो गई थी। कार में सीएनजी लगी हुई थी। इस मामले में सामने आया था कि कार में शॉट सर्किट से आग लगी थी। कार सेंटर लॉकिंग की वजह बंद हो गई थी। इस कारण गेट नहीं खुल पाए और तीनो दोस्तों की कार में जिंदा जलकर मौत हो गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Incident or murder: One killed in car burns one