DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निगम सदन की बैठक में 15 मुद्दों पर चर्चा होगी

गुरुग्राम। कार्यालय संवाददाता

नगर निगम गुरुग्राम (एमसीजी) सदन की 15 जनवरी को होने वाली दूसरी बैठक में हंगामा होने के आसार हैं। मेयर टीम जिन 15 मुद्दों पर पार्षदों से चर्चा करके सदन में पारित करना चाहती है, उन मुद्दों पर विपक्षी पार्षदों की सहमति बननी मुश्किल होगी। पिछली बैठक में पार्षदों की ओर से उठाए गए मुद्दों पर कोई काम नहीं हुआ। ऐसे में पार्षदों को संतुष्ट करने के लिए मेयर टीम ने उनके क्षेत्रों में 9.42 करोड़ रुपये की लागत से विकास कार्य कराने का एजेंडा पहले से तैयार किया है।

इन मुद्दों पर हंगामा

27 नवंबर 2016 को हुई निगम सदन की बैठक में ने सामुदायिक केंद्रों की बुकिंग 1100 रुपये करने के लिए मांग उठाई थी, लेकिन बुकिंग दर कम नहीं की गई। पार्कों का रखरखाव आरडब्ल्यूए और समितियों को देने पर सहमति बनी थी। वार्डों से कब्जा और अतिक्रमण हटाने के लिए निगम में कमेटी नहीं बनाई गई। वार्डों के अंदर साफ सफाई, पानी और सीवर की समस्या में कोई सुधार नहीं हुआ।

17 पार्षदों को खुश करने के लिए 15 एजेंडे

मेयर टीम ने 17 पार्षदों को खुश करने के लिए 15 एजेंडे तैयार किए हैं। इसमें वार्ड नंबर 1, 2,3,4, 8,9, 12, 13, 14, 15, 19, 20, 25, 28,29, 31, 32 के पार्षदों के क्षेत्रों में विकास कार्य के लिए 9.42 करोड़ रुपये सदन से मंजूरी, सेक्टरों में सामुदायिक केंद्र और पार्कों का रख रखाव आरडब्ल्यूए की बजाय नगर निगम अपने स्तर पर करने के लिए पुर्न विचार, विकास कार्यों में देरी का ठीकरा नियुक्त सलाहकारों पर फोड़ने और इनकी आपत्तियों से निर्धारित कीमत से अधिक लागत बढ़ाने से निगम का वित्तीय नुकसान पर चर्चा, पार्षदों को उनके क्षेत्र में कार्यालय निर्माण कर वार्ड की समस्याओं को सुनना, विज्ञापन पॉलिसी के बारे में सदन को अवगत कराकर संशोधन करना, निगम सीमा में गांव के लाल डोरे के आसपास आबादी को मूलभूत सुविधाएं देने पर विचार करना, पार्षदों के क्षेत्र में कराए जा रहे विकास कार्य में संतुष्टी के बाद एजेंसी को भुगतान पर सहमति, मोबाइल टॉवर स्थापित करने के बारे में सदन में विस्तार से चर्चा, आम जनता की शिकायतों का निदान करने के लिए सैल कमेटी के गठन पर सदन की मंजूरी, सार्वजनिक शौचालयों पर साफ सफाई जीरों होने पर सदन में विचार विमर्श करना आदि शामिल हैं।

मीडिया को खुश करने की कोशिश

नगर निगम गुरुग्राम की खामियों पर पर्दा डालने के लिए मेयर टीम ने गुरुग्राम के मीडिया कर्मियों को खुश करने के लिए एजेंडा तैयार किया है। मेयर टीम ने पत्रकारों के लिए एक मीडिया सेंटर बनाने के लिए सदन में विचार विमर्श करेगी।

जमीन बेचकर बनाएंगे एमसीजी कार्यालय

सदन में हंगामा होने के डर से निगम अधिकारियों ने व्यापार सदन पर नगर निगम कार्यालय के निर्माण को लेकर प्रस्ताव तैयार कर लिया है। इसमें 700 वर्ग फुट पर निगम कार्यालय बनाने के अलावा जोन-1, 2 के संयुक्त आयुक्त कार्यालय भी बनेंगे। लेकिन बाकी दो जोन के कार्यालय कहां पर बनेंगे। इसके लिए कोई योजना नहीं बनी है। अधिकारियों ने सदन में पार्षदों के हंगामे से बचने के लिए जमीन बेचकर निर्माण कराने पर जोर दे रहे कि नीलामी से मिलने वाली राशि से कार्यालय के निर्माण कराए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:In the second meeting of the Municipal Council, there will be a ruckus on the issues