DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कॉल सेंटर चलाकर विदेशियों से ठगी में सात गिरफ्तार

उद्योग विहार फेज-5 में कॉल सेंटर के जरिये ठगी के धंधे का फिर भंडाफोड़ हुआ है। पुलिस ने विदेशियों से ठगी की सूचना पर कॉल सेंटर में शनिवार को छापा मारकर सात युवकों को गिरफ्तार किया। उसी दिन सभी को अदालत में पेश किया गया। एक आरोपी को पुलिस रिमांड पर लिया गया जबकि बाकी को जेल भेज दिया गया।

पुलिस की ओर से एक महीने में कॉल सेंटर के जरिये ठगी के पांचवें मामले का भंडाफोड़ किया गया है। पुलिस का कहना है कि, यहां विदेशियों को धमका कर ठगी को अंजाम दिया जा रहा था। गौरतलब है कि पुलिस को दो दिन पहले सूचना मिली थी कि उद्योग विहार फेज-5 में विदेशियों से ठगी करने वाले कॉल सेंटर का संचालन किया जा रहा है। इस सूचना पर पुलिस टीम ने शनिवार को छापेमारी की।

उस समय कुल सात लोग कंप्यूटर के जरिए ग्राहकों को फोन कर रहे थे। सभी कॉल देश के बाहर खासतौर पर अमेरिका, इंग्लैंड, आस्ट्रेलिया आदि देशों में लगाई गई थीं। इसमें लोगों को फोन पर लॉटरी लगने, दुर्घटना बीमा का क्लेम सेटल करने, जीवन बीमा सहित अन्य तरह का झांसा दिया जाता मिला।

पुलिस का कहना है कि ये एक ग्राहक से न्यूनतम 100 यूएस डॉलर की ठगी करते थे। ये इस रकम की प्राप्ति आई-ट्यून कार्ड खरीदवा कर करते थे। पीड़ित से कार्ड नंबर लेने के बाद आरोपी यहां उस नंबर को कम कीमत पर बेच देते थे।

एक आरोपी को रिमांड पर लिया

पुलिस ने बताया कि, आरोपियों की पहचान मणिपुर निवासी सुरेश वाइखोम, नियाम, हायोपू, शिमर्ग, नागालैंड निवासी अलूंग, मणिपुर निवासी मैकडफ व गांव भगवानपुर गोरखपुर निवासी मनोज कुमार के रूप में हुई है। पूछताछ में इन्होंने बताया कि वह यहां करीब 5 महीने से नौकरी कर रहे थे।

एक आरोपी को रिमांड पर लिया

उद्योग विहार थाना प्रभारी इंस्पेक्टर अजयबीर के मुताबिक आरोपियों को अदालत में पेश किया कर एक आरोपी मनोज को तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। वहीं बाकी आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:False Call Center Revealed, 7 arrest