DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCR गुरुग्रामआठ सौ लोगों को 127 करोड़ का ऋण मिला

आठ सौ लोगों को 127 करोड़ का ऋण मिला

हिन्दुस्तान टीम,गुड़गांवNewswrap
Thu, 28 Oct 2021 03:00 AM
जिला उपायुक्त डॉ. यश गर्ग ने कहा कि अंत्योदय योजना को साकार करने में बैंकिंग सेक्टर अहम योगदान दे रहा है। उपायुक्त बुधवार को भारत सरकार के वित्तीय...
1/ 2जिला उपायुक्त डॉ. यश गर्ग ने कहा कि अंत्योदय योजना को साकार करने में बैंकिंग सेक्टर अहम योगदान दे रहा है। उपायुक्त बुधवार को भारत सरकार के वित्तीय...
जिला उपायुक्त डॉ. यश गर्ग ने कहा कि अंत्योदय योजना को साकार करने में बैंकिंग सेक्टर अहम योगदान दे रहा है। उपायुक्त बुधवार को भारत सरकार के वित्तीय...
2/ 2जिला उपायुक्त डॉ. यश गर्ग ने कहा कि अंत्योदय योजना को साकार करने में बैंकिंग सेक्टर अहम योगदान दे रहा है। उपायुक्त बुधवार को भारत सरकार के वित्तीय...

गुरुग्राम। जिला उपायुक्त डॉ. यश गर्ग ने कहा कि अंत्योदय योजना को साकार करने में बैंकिंग सेक्टर अहम योगदान दे रहा है। उपायुक्त बुधवार को भारत सरकार के वित्तीय सेवा विभाग, वित्त मंत्रालय के निर्देश पर बैंकरों द्वारा जीआईए हाउस में आयोजित क्रेडिट आउटरीच प्रोग्राम में लोगों को संबोधित कर रहे थे। वह कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि पहुंचे थे। कार्यक्रम में लीड बैंक प्रबंधक (एलडीएम) प्रह्लाद गोदारा ने बताया कि विभिन्न बैंकों ने अभी तक 797 जिलावासियों को केसीसी, मुद्रा लोन, स्टैंड अप इंडिया, व्हीकल लोन, हाउसिंग लोन, एग्रीकल्चर लोन व अन्य सेक्टर से संबंधित लोगों को 127 करोड़ 18 लाख रुपये की राशि का ऋण मंजूर किया है। जिससे लोगों को काफी फायदा पहुंचा है।

कार्यक्रम की शुरुआत जिला उपायुक्त द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर की गई। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में लोगों के उद्यम काफी हद तक प्रभावित हुए हैं। ऐसे में बैंकर्स ने उन लोगों को कठिन परिस्थितियों से उबारने व नव उधमियों को उनके उद्यम स्थापित करवाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्होंने आउटरीच प्रोग्राम में शामिल सभी बैंकों से अपील करते हुए कहा कि सभी बैंक सरकार द्वारा प्रायोजित योजनाओं में अधिक से अधिक ऋण देकर प्रधानमंत्री के अंत्योदय के सपने को साकार करने में अपनी सार्थक भूमिका निभाएं। आउटरीच प्रोग्राम में पहली बार शामिल हो रहे जम्मू एंड कश्मीर बैंक के अधिकारियों को प्रोत्साहित करते हुए डॉ. गर्ग ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि जिले में सरकारी योजनाओं का लाभ दे रहे अन्य बैंकों की तरह जम्मू एंड कश्मीर बैंक भी जिलावासियों की आर्थिक समृद्धि में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देकर अपनी महत्वपूर्ण उपस्थित दर्ज करवाएगा।

उन्होंने कार्यक्रम में आए सभी ग्राहकों से बैंकों द्वारा लगाए गए स्टॉल पर भ्रमण करने एवं बैंक से संबंधित योजनाओं की जानकारी लेने के लिए प्रोत्साहित किया। डॉ गर्ग ने इस दौरान विभिन्न बैंकों के लाभार्थियों को ऋण स्वीकृति पत्र भी वितरित किए। कार्यक्रम में विभिन्न प्रमुख बैंकों द्वारा अपने स्टाल लगाकर सरकार द्वारा प्रायोजित योजनाओं जैसे पीएम स्वनिधि, क्रेडिट गारंटी,मुद्रा योजना,स्टैंड अप इंडिया, पीएमईजीपी, केसीसी व आत्मनिर्भर योजना से ग्राहकों को अवगत कराया गया।

निर्धारित समय में ऋण देने के दिए निर्देश

उपायुक्त ने बैठक में कहा कि केंद्र सरकार आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में हर व्यक्ति को अपने पैरों पर खड़ा होने का मौका देना चाहती है। उन्होंने कहा कि सरकार का उद्देश्य अंतिम छोर पर बैठै व्यक्ति तक भी योजनाओं का लाभ पहुंचाने का है। ऐसे में उन्होंने बैंक अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह पात्र लोगों के आवेदन आने पर उन्हें निर्धारित समय में ऋण देना सुनिश्चित करें। वहीं, उन्होंने इसके लिए समय समय पर शिविर लगाने और जागरुकता अभियान चलाने को भी कहा। जिससे लोगों को किसी तरह की दिक्कत न उठानी पड़े।

कार्यक्रम में नाबार्ड के क्लस्टर हेड विनय कुमार त्रिपाठी,पंजाब नेशनल बैंक के श्रेत्रीय प्रबंधक हरजिंदर सिंह व सर्कल हेड राजेश कुमार, यूको बैंक के क्षेत्रीय हेड सुजॉय दत्ता, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की क्षेत्रीय प्रबंधक वंदना शर्मा, जीआईए के प्रेसिडेंट जगन नाथ मंगला सहित अन्य प्रमुख लोग उपस्थित रहे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें