DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एमजी-रोड के 12 पब और बार पर गिरी गाज, एनओसी रद्द

एमजी-रोड के 12 पब और बार पर गिरी गाज, एनओसी रद्द

गुरुग्राम। मुख्य संवाददाता

मिलेनियम सिटी के एमजी रोड पर स्थित 12 पब और बार गुरुग्राम पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की है। रविवार को देर रात पुलिस आयुक्त के के राव ने इन पब-बार की एनओसी रद्द करने का ऐलान किया।

एमजीएफ मेट्रो पॉलिटन मॉल के बाहर जमा हुए आठ सोसाइटी के लोगों के बीच पुलिस आयुक्त ने ऐलान में किया। इस मौके पर कैबिनेट मंत्री राव नरबीर सिंह और उपायुक्त विनय प्रताप सिंह भी मौजूद रहे। गुरुग्राम नगर निगम (एमसीजी) की तरफ से संयुक्त आयुक्त वाई एस गुप्ता पहुंचे।

गौरतलब हो कि एमजी रोड पर स्थित सोसाइटी के लोग इन पब और बार में हो रहे अनैतिक कार्यों के खिलाफ लंबे समय से आवाज उठा रहे थे। लोगों ने इस संबंध में मुख्यमंत्री मनोहर लाल तक शिकायत दर्ज कराई थी। स्थानीय लोगों के समूह ने 22 जुलाई को 'सेव एमजी रोड' कैंडिल मार्च भी किया था। तब इसमें कैबिनेट मंत्री राव नरबीर सिंह भी पहुंचे थे और उन्होंने वादा किया था कि वह सात दिन इसी समय एमजी रोड का गौरव लौटाने के लिए बड़ा ऐलान करेंगे। एमजी रोड पर स्थित मॉल में पब और बार लंबे समय से देह व्यापार और गलत कार्यों को लेकर सुर्खियों में थे। गुरुग्राम पुलिस के आयुक्त के के राव ने चार्ज संभालने के बाद इन पबों की जांच भी कराई थी। इनमें नियमों का उल्लंघन भी मिला था।

तीन मॉल में है स्थित:

पुलिस आयुक्त ने कैबिनेट मंत्री और उपायुक्त की मौजूदगी में जैसे ही ऐलान किया। तो लोगों में खुशी दौड़ गई। एमजीरोड पर स्थित सोसाइटियों के लोग पब-बार में अनैतिक कार्यों के चलते काफी परेशान थे। राव ने साफ किया जिन पब-बार की एनओसी रद्द की गई है। इनमें दोबारा एनओसी नहीं मिलेगी। पब-बार को आबकारी विभाग से लाइसेंस मिलता है लेकिन इसके बाद उन्हें पुलिस और दमकल से अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) लेनी होती है। पुलिस ने जिन पब और बार पर कार्रवाई की। वे तीन मॉल में स्थित हैं। इनमें सहारा मॉल, जेएमडी रिजेंट मॉल और एमजीएफ मॉल हैं। उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने कहा कि शहर की महत्वपूर्ण रोड पर गंदा काम नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रशासन की इस कार्रवाई से संकेत साफ है कि दूसरे पब-बार अगर नियमों का उल्लंघन करेंगे तो उनके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सूत्रों की मानें तो पुलिस ने यह कार्रवाई मुख्यमंत्री मनोहर लाल और लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह के निर्देश के बाद की है।

सिर्फ तीन बार बचे:

12 पब-बार की एनओसी रद्द होने के बाद एमजीरोड पर अब सिर्फ तीन पब-बार ही बचे हैं। यहां पर कुल 15 पब-बार संचालित हो रहे थे। एनओसी रद्द होने के बाद अब लाइसेंस भी खत्म हो गया। पुलिस ने जिन पब-बार एनओसी वापस ली है उनमें सहारा मॉल के प्रिज्म, इप्सा, ओडिसी, सिडनी और इग्नाइट की एनओसी वापस ली गई है। इसी प्रकार जेएमडी रिजेंट मॉल में किंग क्लबऔर ईआन के अलावा एमजीएफ में एंपायर, क्वीन और फैंटम प्रमुख हैं। आरडब्ल्यूए डीएलएफ-2 के प्रेसीडेंट उमेश गुप्ता ने कहा कि इस फैसले से सभी लोग खुश हैं। जिला प्रशासन, पुलिस और मंत्री के आभारी हैं। गुप्ता ने कहा कि अभी भी कुछ पब-बार बचे हैं। उनपर भी अगर कार्रवाई होगी तो बहुत अच्छा होगा।

ओपन ड्रिकिंग बंद होगी:

पुलिस आयुक्त ने लोगों की मांग पर कहा कि वह ओपन ड्रिकिंग को भी बंद कराएंगे। एमजीरोड पर कई शराब के ठेके और मचान हैं। जहां पर लोगों खुलेआम शराब का सेवन करते हैं। उन्होंने अगले दो दिन में पुलिस ओपन ड्रिकिंग बंद करा देगी। तो वहीं कैबिनेट मंत्री राव नरबीर सिंह स्थानीय लोगों से कहा कि वह चाहते हैं कि एमजी रोड साफ-सुथरी बने और फिर से लोग परिवार के साथ यहां आ सकें। इसके लिए उन्होंने लोगों से सुझाव देने की अपील की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Crisis on Pub-Bar operated on MG Road, Police withdrew NOC