DA Image
Saturday, November 27, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCR गुरुग्रामद्वारका एक्सप्रेसवे के एलिवेटेड हिस्से का निर्माण छह माह बाद शुरू

द्वारका एक्सप्रेसवे के एलिवेटेड हिस्से का निर्माण छह माह बाद शुरू

हिन्दुस्तान टीम,गुड़गांवNewswrap
Sun, 17 Oct 2021 07:10 PM
द्वारका एक्सप्रेसवे के एलिवेटेड हिस्से का निर्माण छह माह बाद शुरू

गुरुग्राम। द्वारका एक्सप्रेसवे के पैकेज तीन में बनने वाले एलिवेटेड फ्लाईओवर का निर्माण कार्य छह माह तक बंद रहने के बाद एक बार फिर शुरू हो गया है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) की अनुमति के बाद कंपनी ने सुरक्षा मानकों को पूरा करते हुए सेक्टर-111 और 113 के पास निर्माण कार्य फिर से शुरू किया है। इस हिस्से में मार्च से अभी तक एलिवेटेड फ्लाईओवर का निर्माण रुका हुआ था। द्वारका एक्सप्रेसवे का निर्माण 2022 तक पूरा करने की समय सीमा तय है।

दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर से बसई रेलवे ओवर ब्रिज (आरओबी) के बीच पड़ने वाले एक्सप्रेसवे के पैकेज तीन में एलिवेटेड फ्लाईओवर का स्लैब डालने के लिए निर्माण कंपनी ने सेक्टर-111 और 113 के पास लांचर लगाने का काम शुरू कर दिया है। वहीं गुरुग्राम से दिल्ली जाने वाली ओर एलिवेटेड हिस्से के नीचे सर्फेस रोड का भी निर्माण लगभग कर लिया है, जबकि दिल्ली से गुरुग्राम की ओर यह काम किया जाना बाकी है। निर्माण कंपनी को दिसंबर तक पैकेज तीन और चार का काम पूरा करने के एनएचएआई ने निर्देश दिए हुए हैं। पैकेज चार में एनएच-8 के पास क्लोवर लीफ फ्लाईओवर का भी निर्माण तेज गति से चल रहा है।

स्लैब गिरने से घायल हुए थे तीन मजदूर

मार्च 2021 में एक्सप्रेसवे के पैकेज तीन में बन रहे एलिवेटेड फ्लाईओवर के दो स्लैब अचानक से भरभराकर गिर गए थे। घटना में तीन मजदूर घायल हुए थे, हालांकि जान-माल का नुकसान नहीं हुआ था। घटना के बाद निर्माण कार्य को लेकर सवाल उठने लगे थे, जिसके चलते एनएचएआई ने एक कमेटी बनाकर जांच करवाई थी। जांच पूरी होने तक एनएचएआई ने एलिवेटेड हिस्से में निर्माण कार्य पर रोक लगा दी थी। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद उसपर अध्ययन हुआ। इसके बाद एनएचएआई ने गत माह ही निर्माण कंपनी को एलिवेटेड हिस्से पर दोबारा से काम शुरू करने की अनुमति दी थी। हालांकि, काम शुरू करने से पहले निर्माण कंपनी को सुरक्षा के सभी मानक पूरा करने के सख्त निर्देश भी दिए गए थे।

नौ हजार करोड़ की लागत से बन रहा है एक्सप्रेसवे:

दिल्ली के महिपालपुर के पास स्थित शिव मूर्ति से गुरुग्राम के खेड़कीदौला तक 29 किलोमीटर लंबे द्वारका एक्सप्रेसवे का निर्माण किया जा रहा है। इसपर नौ हजार करोड़ रुपये की अनुमानित लागत आएगी। ये एक्सप्रेसवे दिल्ली और गुरुग्राम के बीच कनेक्टिविटी को और मजबूत करेगा। इसका निर्माण चार पैकेज में चल रहा है। पैकेज एक दिल्ली के महिपालपुर के पास शिव मूर्ति से द्वारका सेक्टर-21 अंडरपास तक है। दूसरी पैकेज द्वारका सेक्टर-21 अंडरपास से दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर तक है। तीसरे पैकेज में काम दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर से बसई आरओबी तक चल रहा है। चौथा पैकेज बसई आरओबी से खेड़कीदौला तक है। पैकेज तीन और चार गुरुग्राम की सीमा में आते हैं।

एनएचएआई के परियोजना निदेशक निर्माण जंभुलकर ने बताया कि निर्माण कंपनी ने पैकेज तीन में काम शुरू कर दिया है। सुरक्षा मानकों को पूरा करते हुए ही कंपनी को काम करने के निर्देश दिए गए हैं। एनएचएआई के साइट इंजीनियर भी काम की पूरी निगरानी करेंगे। कंपनी को तय समय सीमा में काम पूरा करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें