DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   NCR  ›  गुरुग्राम  ›  किसान आंदोलन को तोड़ने की साजिश रची जा रही

गुड़गांवकिसान आंदोलन को तोड़ने की साजिश रची जा रही

हिन्दुस्तान टीम,गुड़गांवPublished By: Newswrap
Fri, 16 Apr 2021 11:50 PM
किसान आंदोलन को तोड़ने की साजिश रची जा रही

शुक्रवार राजीव चौक पर कृषि कानून के विरोध में किसानों का जारी रहा। धरने में किसान,मज़दूर और सामाजिक संगठनों के प्रमुख लोग शामिल हुए। किसान मोर्चा अध्यक्ष संतोख सिंह ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि सिंघु बॉर्डर पर कुंडली के आसपास आंदोलनकारी किसानों के टैंटों में साजिशपूर्ण तरीके से आग लगाने की कायराना घटिया हरकत की कड़ी निंदा करते हैं। इस घटना में कई टैंट जलकर स्वाह हो गए जो काफी खर्च व मेहनत करके बनाएं गए थे। किसानों ने यदि तत्परता व विवेक से आग पर काबू नहीं पाया होता तो यह एक बड़ी भंयकर दुर्घटना हो सकती थी। उन्होंने कहा कि किसानों के टैंटों में आग लगाना किसान आंदोलन को तोड़ने का षड्यंत्र है। उन्होंने कहा कि 142 दिनों से देश का यह ऐतिहासिक किसान आंदोलन अनुशासन व शांति के साथ चल रहा है। अब तक 350 के करीब किसान इसमें अपना बलिदान दे चुके हैं। सर्दी, गर्मी, बारिश समेत हर तरह की विपरीत परिस्थिति में किसानों ने इस आंदोलन को जी-जान से आगे बढ़ाया है। छात्र, युवा,महिलाएं, मजदूर, कर्मचारी, बुद्धिजीवी, शहरी कारोबारी व ग्रामीण गरीब सभी का इस में अभूतपूर्व सक्रिय समर्थन और तरह-तरह का सहयोग व योगदान रहा है। उन्होने कहा कि इस घटना को गम्भीरता से लेना चाहिए और ऐसी घृणित साजिशों, घटिया हरकतों व भड़कावे की कार्रवाईयों को विफल करना होगा और इसके लिए किसान आंदोलन को हर तरह से अपनी पूरी चौकसी बरतनी होगी।

संबंधित खबरें