DA Image
20 अप्रैल, 2021|2:56|IST

अगली स्टोरी

25 गाड़ियों और 100 कर्मचारियों ने 18 घंटे में आग पर काबू पाया

default image

गुरुग्राम। पटौदी रोड पर दुकानों में लगी आग पर करीब 18 घंटे बाद काबू पाया जा सका। दमकल विभाग सहित अन्य फायर स्टेशनों की दो दर्जन से ज्यादा गाड़ियां और करीब 100 कर्मचारी आग बुझाने में लगे रहे। आगजनी में दुकानों में रखा सारा सामान जलकर खाक हो गया। दुकानदार आग से हुए नुकसान को लेकर सदमे में हैं। इस आगजनी की घटना में दुकानदारों का करोड़ों रुपये का नुकसान होना बताया जा रहा है। हालांकि आग लगने के कारणों का अभी तक भी पता नहीं चल पाया है।

गुरुवार सुबह तक भी दुकानों में लगी आग बुझ नहीं पाई थी। दमकल कर्मियों ने प्रभावित दुकानों में रखा बचा हुआ सामान भी बाहर निकलवाया और आग पर पूरी तरह काबू पाने की कोशिश की। दमकल विभाग के कर्मचारी पूरी रात आग बुझाने की जद्दोजहद में जुटे रहे। मंडल फायर अधिकारी आईएस कश्यप ने बताया कि गुरुवार दोपहर 12 बजे के करीब आग पूरी तरह से बुझ पाई। इसे बुझाने के लिए बुधवार रात सात बजे से 25 फायर ब्रिगेड की गाड़ियां और करीब 100 दमकल कर्मचारी लगे हुए थे। उन्होंने कहा कि आग काफी भयानक थी। आस-पास की दुकानों तक भी इसके पहुंच जाने से काबू पाने में अधिक समय लगा। उन्होंने कहा कि आग किन कारणों से लगी इसका अभी तक पता नहीं चल पाया है। हालांकि दुकानदारों की ओर से करोड़ों रुपये का नुकसान होने की बात कही गई है। बता दें कि सदर बाजार के पास पटौदी रोड पर स्थित हार्डवेयर की दुकान में बुधवार शाम छह बजे के करीब अचानक आग लगी थी। देखते ही देखते आग ने आस-पास की दो दुकानों को भी अपनी चपेट में ले लिया था। आग की लपटें कई फीट ऊपर तक निकल रही थी। इसपर काबू पाने के लिए दमकल विभाग सहित पुलिस और सिविल डिफेंस की टीम भी रातभर मौके पर मौजूद रही थी।

विधायक ने लिया जायजा:

आगजनी की घटना का जायजा लेने के लिए बुधवार रात को गुरुग्राम से विधायक सुधीर सिंगला भी घटना स्थल पर पहुंचे थे। दुकानदारों को धीरज बांधते हुए उन्होंने कहा कि शुक्रवार को मुख्यमंत्री जिले में आ रहे हैं। वह इस घटना को लेकर उनसे बात करेंगे। विधायक ने कहा कि सरकार व्यापारियों, दुकानदारों के साथ सदा खड़ी है। उनके हितों के लिए काम कर रही है। कोई भी व्यापारी खुद को अकेला न समझे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:25 trains and 100 employees control the fire in 18 hours