DA Image
30 अक्तूबर, 2020|6:35|IST

अगली स्टोरी

सड़क हादसे में स्कूटी सवार दो दोस्तों की मौत

default image

नई दिल्ली/गाजियाबाद। संवाददाता

शाहदरा के विवेक विहार में गुरुवार को एक अज्ञात वाहन ने स्कूटी सवार दो दोस्तों को टक्कर मार दी। गंभीर रूप से घायल बुरहान और बिलाल को नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। दोनों की उम्र 30 साल है। विवेक विहार थाने की पुलिस केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

मृतक बुरहना और बिलाल परिवार के साथ गाजियाबाद के साहिबाबाद स्थित शहीद नगर में रहते थे। दोनों का घर गली नंबर-चार में आसपास ही है और दोनों एक दूसरे के अच्छे दोस्ते थे। बुरहान के परिवार में पिता हाजी अंसारी, मां, पत्नी, तीन बेटी व एक बेटा है। जबकि बिलाल के परिवार में पिता सब्बीर, मां, पत्नी और एक बेटा है। दोनों शहीद नगर में घर के पास अलग-अलग मीट की दुकान चलाते थे। दोनों दिल्ली में गाजीपुर मंडी से पशु खरीदते थे और वहीं पशु वधशाला में कटान के बाद मीट को अपनी दुकानों पर बेचते थे। गुरुवार को दोनों ने गाजीपुर मंडी में अतिरिक्त पशु खरीद लिए थे। जिसके चलते उनके पास पशु वालों को देने के लिए 30 हजार रुपये कम पड़ गए। दोनों रुपये लेने के लिए शहीद नगर अपने घर आ गए। इसके बाद रुपये लेकर वापस स्कूटी से गाजीपुर मंडी जाने लगे। जब दोनों विवेक विहार में रामप्रस्थ लाल बत्ती के पास पहुंचे। तभी एक अज्ञात वाहन उनकी स्कूटी में जोरदार टक्कर मार दी और मौके से फरार हो गया। राहगीरों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची तो दोनों गंभीर रूप से घायल सड़क पर पड़े थे। स्कूटी थोड़ी दूरी पर टूटी हुई पड़ी हुई थी। पुलिस तुरंत दोनों घायलों को कड़कड़डूमा स्थित डॉ. हेडगेवार अस्पताल लेकर गई, जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस केस दर्ज कर घटना स्थल के आसपास की सीसीटीवी खंगला रही है। ताकि टक्कर मारने वाले अज्ञात वाहन के बारे में पता चल सके।

बेटियों की अच्छी परवरिश के कर रहा था मेहनत

बुरहान के परिजनों ने बताया कि उसकी तीन बेटियां है। वह बेटियों की अच्छी परवरिश और उनकी पढ़ाई के साथ सभी जरूरतों को पूरा करने के लिए लगातार मेहनत कर रहा था। लॉकडॉउन में उसका कारोबार ठप हो गया था। घर में आर्थिक परेशानी भी बढ़ गई थी। लेकिन अनलॉक होने पर वह अपने कारोबार में पूरी तरह से जुट गया था। वह अपने कारोबार को भी बढ़ाने का प्रयास कर रहा था। जिसमें वह बिलाल की भी मदद ले रहा था।

एक ही गली में दो की मौत से मातम पसरा

दोनों शहीद नगर के एक ही गली के रहने वाले थे, इसलिए दोनों की मौत से परिवार में मातम पसरा हुआ है। कम उम्र में ही दोनों की मौत से दोनों परिवार के लोग सदमे में है। उन्हें विश्वास नहीं हो रहा है कि दोनों अब इस दुनिया में नहीं रहे। परिजनों को कहना है कि दोनों पूरे दिन अपने काम में ही व्यस्त रहते थे। काम के बाद अपने परिवार के साथ समय बिताते थे। लोगों की मदद भी करते थे। परिवार की जिम्मेदारी उन्हीं के कंधों पर थी। अब उनकी मौत से परिवार पर मुसीबतों का पहाड़ टूट गया है। उन्होंने आरोपी चालक पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Two friends riding a scooty died in a road accident