DA Image
3 मार्च, 2021|3:30|IST

अगली स्टोरी

ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे पर सर्विस रोड बनेगी

ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे पर सर्विस रोड बनेगी। इसके बनने से हजारों लोगों को लाभ पहुंचेगा। एनएचएआई ने सर्विस रोड बनवाने के लिए 15 करोड़ रुपये जारी कर दिए है। फिलहाल एक सर्विस रोड पर ही सहमति दी गई है। दूसरी सर्विस रोड का फैसला सोमवार को होगा।

गाजियाबाद की सीमा में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे की लंबाई 24.4 किलोमीटर है। इसके लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने 16 गांवों के साढ़े चार हजार किसानों की जमीन का अधिग्रहण किया था। यह एक्सप्रेस वे बागपत के खेकड़ा से जिले की सीमा में प्रवेश कर रहा है। बीन गांव से आरिखपुर तक एक्सप्रेस वे का 90 फीसदी काम पूरा हो चुका है, लेकिन एनएचएआई ने एक्सप्रेस वे से जोड़ने वाली सर्विस रोड नहीं दी थी। इससे कई गांव के किसानों में आक्रोश था।

किसान एनएचएआई और जिला प्रशासन से सर्विस रोड की मांग कर रहे थे। अपनी मांग पूरी कराने के लिए उन्होंने एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य भी रोक दिया था। जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने एनएचएआई के अधिकारियों से सर्विस रोड बनवाने के लिए वार्ता की। इसके बाद एनएचएआई के अधिकारी सर्विस रोड बनाने को तैयार हो गए। जिलाधिकारी ने बताया कि सर्विस रोड की सहमति दे दी गई है, इसे बनाने पर 15 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

इसलिए जरूरी है सर्विस रोड

जिले में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे में सर्विस रोड नहीं होने से किसानों को खेतों तक पहुंचने के लिए कई किलोमीटर तक चलना पड़ता। यही हाल राहगीरों को होता। कट न होने से राहगीरों को भी कई किलोमीटर का अधिक सफर तय करना होता।

डीएम के साथ सोमवार को बैठक होगी

किसान नेता मनोज नागर ने बताया कि जिलाधिकारी के साथ सोमवार को बैठक होगी। वह दूसरी सर्विस रोड की भी मांग कर रहे हैं। इसके लिए जिला प्रशासन तैयार है। एनएचएआई के अधिकारियों से इस बारे में बात की जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Service road will be made in Eastern Peripheral Express Way