DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंदे पानी के विरोध में लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन

वसुंधरा सेक्टर-1 में गंदे पानी की आपूर्ति से परेशान लोगों ने रविवार को जलकल विभाग के सामने विरोध प्रदर्शन किया। ट्रांस हिंडन आरडब्ल्यूए फेडरेशन के अध्यक्ष कैलाश चंद्र शर्मा ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से गंगाजल में सीवरयुक्त पानी आ रहा है, जिसके चलते जलकल विभाग से पानी की लाइन दुरुस्त करने गुहार लगाई गई थी।

लोगों का कहना है कि जलकल विभाग की अनदेखी के चलते इस संबंध में कोई कार्रवाई नहीं की गई। जब भी सीवर ओवरफ्लो की समस्या पैदा होती है, सीवर का पानी गंगाजल की टूटी पाइपलाइन में प्रवेश कर जाता है। जलकल विभाग टूटी लाइन को ढूंढ़कर रिपेयर करने की बजाय सीवर ओवरफ्लो रोककर जिम्मेदारी पूरी कर लेता है, लेकिन समस्या जस की तस बनी रहती है।

लोगों का कहना है यदि जल्दी इस दिशा में जलकल विभाग ने गंभीर कदम नहीं उठाए तो पुन: उग्र विरोध प्रदर्शन किया जाएगा और वसुंधरा के सभी सेक्टरों को इस मुहिम में जोड़ा जाएगा। प्रदर्शन में विवेकानंद पोखरियाल, आदेश त्यागी, रत्नेश श्रीवास्तव, सुरेंद्र कुमार, जितेंद्र सती, एमएस चौहान, डीएन तिवारी, एमएल शर्मा, डीपी चौहान, विकास गुप्ता, कमल कौशिक समेत कई लोग मौजूद रहे।

कड़कड़ मॉडल और झंडापुर में नहीं मिला पानी

कड़कड़ मॉडल और झंडापुरम में लोगों को रविवार सुबह पानी नहीं मिला। यहां वसुंधरा सेक्टर-10 के भूमिगत जलाशय से पानी की आपूर्ति होती है। प्रताप विहार प्लांट से शनिवार की देर रात पानी मिला। इस वजह से भूमिगत जलाशय नहीं भर सका। वहीं सुबह में कड़कड़ मॉडल और झंडापुर में जलापूर्ति प्रभावित रही। सहायक अभियंता योगेंद्र यादव ने बताया कि प्रताप विहार प्लांट से गंगाजल मिलने लगा है। सोमवार की सुबह में लोगों को पानी की आपूर्ति की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Protest protest against dirty water